अब छपरा जंक्शन की सुरक्षा व्यवस्था की वीडियो सर्विलांस सिस्टम से होगी निगरानी
अब छपरा जंक्शन की सुरक्षा व्यवस्था की वीडियो सर्विलांस सिस्टम से होगी निगरानी
बिहार

अब छपरा जंक्शन की सुरक्षा व्यवस्था की वीडियो सर्विलांस सिस्टम से होगी निगरानी

news

तीन स्तरों पर होगी मानिटरिंग, गोरखपुर जोन व वाराणासी डिवीजन से नजर रखेंगे अधिकारी छपरा, 13 नवम्बर (हि.स.)। पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा जंक्शन की सुरक्षा व्यवस्था पर अब विडियों सर्विलांस सिस्टम से नजर रखी जायेगी। यहां विडियों सर्विलांस सिस्टम को शुरू कर दिया गया है और गोरखपुर जोनल मुख्यालय के नियंत्रण कक्ष से जोड़ दिया गया है। पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी ने शुक्रवार को बताया कि वीएसएस में आईपी आधारित कैमरा लगा है। इस प्रणाली के माध्यम से तीन स्तरों पर मानिटरिंग होगी। पहले जोनल मुख्यालय, दूसरा मण्डल एवं तीसरा स्टेशन स्तर पर मानिटरिंग की सुविधा है। उन्होंने बताया कि हर कैमरे की बहुत ज्यादा रिकार्डिंग कैपिसिटी है। रेलवे स्टेशनों पर इसे प्रमुख रूप से प्रवेश एवं निकास द्वार सहित रेलवे सुरक्षा बल, टेलीकाम एवं रेल टेल के संयुक्त निरीक्षण में चिन्हित अन्य स्थलों पर लगाया गया है। स्टेशन पर लगभग 40 कैमरे लगें हैं। इस प्रणाली में 10 केवी के क्षमता का यूपीएस लगा है तथा दो घंटे से ज्यादा का बैकअप है। उच्च क्वालिटी के कैमरों के साथ सर्वर में 20 जीबी का हार्ड डिस्क भी लगाया गया है। वीएसएस में ले-आउट फेसिलिटी भी है, जिससे एक साथ कई स्थलों की मानिटरिंग की जा सकेगी । महाप्रबन्धक ने बताया कि परिचालन विभाग गोरखपुर में विडियो सर्विलांस सिस्टम (वी.एस.एस.) का कन्ट्रोल रूम बनाया गया है। महाप्रबन्धक ने विडियो सर्विलांस सिस्टम (वी.एस.एस.) की कार्यपद्धति में सिस्टम इम्प्रूवमेंट के लिये अनेक व्यवहारिक सुधार करने का निदेश दिया गया है और वी.एस.एस. को और अधिक कारगर बनाने के लिये इसमें फेस रिकगनिशन सिस्टम विकसित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि खराब कैमरों का अलार्म, एलर्ट सुविधा भी विकसित करने का निर्देश दिया गया है। इससे अपराध नियंत्रण में तथा जहर खुरानी की घटनाओं को रोकने में मदद मिलेगी। रेल यात्रियों एवं सम्पत्ति की सुरक्षा तथा अवांछनीय घटनाओं पर नजर रखने में वीएसएस अत्यन्त कारगर है। उन्होंने कहा कि रेल कारपोरेशन आफ इण्डिया लिमिटेड (रेल टेल) द्वारा 6124 स्टेशनों पर किया जा रहा है। प्रथम चरण में 300 से अधिक स्टेशन पर वीएसएस स्थापित किये गये हैं। पूर्वोत्तर रेलवे में प्रथम चरण में वीएसएस की शुरूआत 12 स्टेशनों पर की गई है, जिसमें छपरा जंक्शन भी शामिल हैं। चरणबद्ध तरीके से पूर्वोत्तर रेलवे के सभी स्टेशनों पर इस प्रणाली का विस्तार किया जायेगा। हिन्दुस्थान समाचार / गुड्डू/चंदा-hindusthansamachar.in