throwing-garbage-on-the-road-cost-the-shopkeeper-dear
throwing-garbage-on-the-road-cost-the-shopkeeper-dear
असम

सड़क पर कचरा फेंकना दुकानदार को पड़ा महंगा

news

शिवसागर (असम), 09 जून (हि.स.)। शिवसागर जिला के नाजिरा इलाके की एक दुकानदार पर कचरा सड़क के किनारे फेंके जाने का आरोप लगने के बाद मजिस्ट्रेट ने गमछा पहनाया। इस प्रक्रिया एक तरह से कचरा फेंकने वाले को सार्वजनिक तौर पर शर्मिंदा करने के रूप में माना जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार नाजिरा के नगर में स्थित बाबू होटल के मालिक गणेश साहू पर कचरा को पौर निगम के कर्मचारियों को न देकर दुकान के पास फेंके जाने का आरोप लगने के बाद बुधवार को नाजीरा सर्किल अधिकारी सब्यसाची कश्यप के निर्देश के बाद नाजिरा की मजिस्ट्रेट सुजाता गोगोई ने गणेश साहू के होटल पर पहुंचकर कचरा फेंके जाने को लेकर उसे गमछा पहनाया। इस मौके पर मजिस्ट्रेट ने कहा कि नाजिरा इलाके को साफ सुथरा रखने के लिए पौर निगम और स्थानीय जिला प्रशासन मिलकर शहर के कचरे को ढोने का जिम्मा कुछ लोगों को सौंपा गया है। ऐसे में होटल के मालिक कचरे को निगम को न देकर होटल के पास ही फेंक रहे थे। जिसकी वजह से उन्हें सबक सिखाने के लिए गमछा पहनाया गया। वहीं होटल के मालिक गणेश साहू ने कहा कि कचरा संग्रह करने के लिए गैर सरकारी संगठन को सौंपा गया है, लेकिन संगठन के लोग सही समय पर नहीं पहुंचते। कभी-कभार तो आते ही नहीं है। मेरे ऊपर जो आरोप लगा है वह सरासर गलत है। मैं कचरा जहां-तहां नहीं फेंकता। उन्होंने कहा कि अब वे कचरा को निगम कर्मियों को ही सौपेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/ असरार/ अरविंद