मैट्रिक और हायर सेकेंडरी की वार्षिक परीक्षा पर नई सरकार लेगी निर्णय

मैट्रिक और हायर सेकेंडरी की वार्षिक परीक्षा पर नई सरकार लेगी निर्णय
the-new-government-will-decide-on-the-annual-examination-of-matriculation-and-higher-secondary

-कोविड प्रोटोकॉल न मानने वाली बिहू कमेटी के खिलाफ कार्रवाई करेगी सरकार गुवाहाटी, 15 अप्रैल (हि.स.)। देश के अन्य हिस्सों की तरह असम में भी तेजी कोरोना के संक्रमण फैल रहे हैं। राज्य में विधानसभा चुनाव के बाद 14 अप्रैल से रंगाली बिहू का उत्सव आरंभ हुआ है। पिछले वर्ष कोरोना के चलते बिहू का आयोजन नहीं हो सका था। ऐसे में राज्य सरकार ने रंगाली बिहू के आयोजन के लिए सरकार ने सख्त प्रोटोकॉल जारी किया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डॉ हिमंत विश्वशर्मा ने कहा है कि सरकार कोविड प्रोटोकॉल को न मानने वाले कलाकार और बिहू समितियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगी। उल्लेखनीय है कि रंगाली बिहू के मौके पर राज्य में सार्वजनिक मंचों के जरिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होता है जिसमें भारी संख्या में लोगों की भीड़ जुटती है। इसको देखते हुए ही सरकार ने गाइड लाइन जारी की है। स्वास्थ्य मंत्री ने साफ किया है कि बिहू उत्सव के बाद स्वास्थ्य विभाग कोविड संक्रमण को लेकर और कड़े निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा है कि असम में लॉकडाउन की कोई संभावना नहीं है। साथ ही कहा कि 02 मई को नई सरकार बनने के बाद नई सरकार तय करेगी कि मैट्रिक और उच्च माध्यमिक परीक्षाएं कराई जाए या नहीं। अंतिम फैसला दो मई के बाद नई सरकार द्वारा लिया जाएगा। परीक्षा के आयोजन को लेकर 25 अप्रैल के बाद शिक्षा विभाग के साथ विचार-विमर्श किया जाएगा। मंत्री ने कहा कि सरकार कोविड प्रोटोकॉल न मानने वाले कलाकारों और बिहू समितियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगी। रात साढ़े ग्यारह बजे तक बिहू कार्यक्रमों को पूरी तरह से बंद करना ही होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना कलाकारों और बिहू समितियों से पूछकर नहीं आता है। ऐसे में सभी को इसका ख्याल रखना होगा। माना जा रहा है कि राज्य में आने वाले दिनों में कोरोना की स्थिति और भयावह हो सकती है। ऐसे में सरकार को पहले ही सचेत होने और स्वास्थ्य तैयारियों को बेहतर बनाने की लिए तैयार रहना होगा। हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद