हस्त शिल्प व चित्रकारी से युवक को मिली प्रसिद्धि
हस्त शिल्प व चित्रकारी से युवक को मिली प्रसिद्धि
असम

हस्त शिल्प व चित्रकारी से युवक को मिली प्रसिद्धि

news

नगांव (असम), 14 अगस्त (हि.स.)। नगांव जिला के पूरनीगोदाम पुलिस चौकी अंतर्गत गायनबैरागी चौक निवासी भाष्कर्य पूर्ण गायन नामक युवक इन दिनों अपने चित्रांकारी एवं हस्त शिल्प से पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ। भाष्कर्य पूर्ण गायन को बचपन से ही चित्रांकन एवं शिल्पकारी में विशेष रुचि थी। बिना किसी प्रकार की ट्रेनिंग के चने की दाल पर भारत का मानचित्र, असम का मानचित्र, राष्ट्रीय ध्वज आदि चित्रांकन कर असम बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा चुका है। भाष्कर्य पूर्ण के कारनामों से इलाके के लोग बेहद प्रसन्न है। उसने चाय की केतली, बोतल आदि पर विभिन्न प्रकार की चित्रांकारी एवं सजावट कर काफी आकर्षक बनाया है। पत्थर पर चित्रांकन, पीपल के पत्ते पर विभिन्न लोगों की आकृति आदि बनाकर भाष्कर्य पूर्ण कई खिताब अपने नाम कर चुका है। पूरानीगोदाम बिरिंची कुमार बरुवा महाविद्यालय में स्नातक द्वितिय वर्ष में अध्यनरत भाष्कर्य पूर्ण गायन बचपन से ही सत्रीया नृत्य और अभिनय से भी जुड़ा हुआ है। हिन्दुस्थान समाचार /असरार/ अरविंद-hindusthansamachar.in