मदरसा बंद किए जाने का आमसा ने किया विरोध
मदरसा बंद किए जाने का आमसा ने किया विरोध
असम

मदरसा बंद किए जाने का आमसा ने किया विरोध

news

धुबरी (असम), 16 सितम्बर (हि.स.) राज्य सरकार द्वारा मदरसा और संस्कृत टोल बंद किए जाने के निर्णय को लेकर बुधवार को धुबरी में ऑल असम मदरसा छात्र संस्था (आमसा) ने अपना विरोध जताया। आमसा के केंद्रीय अध्यक्ष मौलाना वाहिदुजमान, करीमगंज जिला अध्यक्ष मौलाना मुनीर उद्दीन और धुबरी जिला आमसा के अध्यक्ष मौलाना हाफिजूर रहमान ने संयुक्त रूप से संवाददाता सम्मेलन में सरकार के निर्माण को मनमाना करार दिया। आमसा पदाधिकारियों ने कहा कि डॉ हिमंत विश्वशर्मा द्वारा मदरसा को बंद करने का जो निर्णय लिया गया है उस निर्णय का हम विरोध करते हैं। डॉ विश्वशर्मा राजनीतिक स्वार्थ और संप्रदायिक मनोवृति के तहत 2021 का चुनाव जीतने के लिए इस तरह का निर्णय लिया है। पहले शुक्रवार की जगह रविवार को मदरसा बंद करने का निर्णय, मदरसा बोर्ड को बर्बाद करना के बाद अब अंत में मदरसा बंद करने का निर्णय राज्य सरकार द्वारा लिया गया है। सरकार के इस निर्णय का मदरसा में पढ़ रहे छात्र विरोध कर रहे हैं । अगर सरकार द्वारा मदरसा को बंद किए जाने का निर्णय वापस नहीं लिया जाता है तो राज्य में इसको लेकर जोरदार आंदोलन किया जाएगा। जिसके लिए राज्य सरकार जिम्मेदार होगी। हिन्दुस्थान समाचार/असरार/ अरविंद-hindusthansamachar.in