बीपीएफ कार्यकारी सदस्य के घर पर पत्थर से हमला
बीपीएफ कार्यकारी सदस्य के घर पर पत्थर से हमला
असम

बीपीएफ कार्यकारी सदस्य के घर पर पत्थर से हमला

news

कोकराझार (असम), 18 अक्टूबर (हि.स.)। बोड़ोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) के कार्यकारी सदस्य एवं अखिल हिंदी भाषी विकास परिषद (अहिंभाविप) के मुख्य संयोजक भरत शर्मा के घर पर बीती रात उपद्रवियों ने पत्थर से हमला कर दिया। जिसके चलते इलाके में सनसनी फैल गयी। हमले में शर्मा के घर में लगे शीशे टूट गये। रविवार को शर्मा ने मीडिया के साथ अपनी बातों को साझा करते हुए कहा कि पत्थरबाजी की जानकारी सुबह मेरी पत्नी को सबसे पहले मिली। शर्मा ने कोकराझार थाने को इस संबंध में जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि अहिंभाविप का एक फर्जी गुट चल रहा है। उन्होंने विभिन्न लोगों का नाम लेते हुए कहा कि मेरे संगठन के नाम पर एक फर्जी संगठन चला रहे हैं। मैंने पिछले दिनों इसका विरोध किया तो उन्होंने मीडिया के जरिए मुझे देख लेने की धमकी दी थी। धमकी के बाद दो-तीन दिन मेरे घर पर पत्थर से हमला हुआ था। उस समय मैंने 16 जुलाई को 107 धारा के तहत जिला उपयुक्त कार्यालय में एक मामला दर्ज कराया और इस का कॉपी 22 जुलाई को स्वयं अपने हाथों से कोकराझार थाना प्रभारी को सौंपा था। 22 जुलाई से आज 18 अक्टूबर तक पुलिस ने कोई कर्रवाई की है या नहीं मुझे पता नहीं है। शर्मा ने कहा कि मैं अब घर से बाहर निकल रहा हूं, जिसके चलते फर्जी संगठन के लोगों की निंद उड़ गयी है।उन्होंने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि पुलिस व प्रशासन इस मामले में कड़ी कार्रवाई करेगा। उन्होंने कहा कि फर्जी संगठन हिन्दी भाषी समाज को मिसगाइड कर रहा ओर समाज को बर्बाद करने का काम कर रहा है। हिन्दुस्थान समाचार /किशोर/ अरविंद-hindusthansamachar.in