बाढ़ की वजह से लोग आश्रय शिविर में रहने को मजबूर
बाढ़ की वजह से लोग आश्रय शिविर में रहने को मजबूर
असम

बाढ़ की वजह से लोग आश्रय शिविर में रहने को मजबूर

news

बिश्वनाथ (असम), 23 जुलाई (हि.स.)। बिश्वनाथ जिला के बकरीदलनी गांव पंचायत अंतर्गत कई गांवों में ब्रह्मपुत्र नदी का पानी घुस आने की वजह से लोग काफी परेशान हैं। बाढ़ की वजह से सैकड़ों परिवार नदी के तटबंध और आश्रय शिविरों में आश्रय लेने को मजबूर हैं। गांव पंचायत के डाठकला, बरदलनी, तिलतली आदि इलाके सबसे ज्यादा बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। बाढ़ प्रभावित लोग आश्रय शिविर में रहने को मजबूर हैं। पिछले छह महीने से 05 साल के बच्चे तक को अब तक शिशु खाद्य सुरक्षा की ओर से खाद्य सामग्री मुहैया नहीं कराई गई है। बाढ़ की वजह से इंसान के अलावा जानवरों को भी काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। राहत शिविरों में सरकार की ओर से चावल, दाल, नमक, तेल आदि मुहैया कराई जा रही है। लेकिन, बच्चों के खाने-पीने के पौस्टिक आहार नहीं मिलने की वजह से काफी बच्चे बीमार पड़ रहे हैं। आश्रय शिविरों में रहे लोगों ने बच्चों के लिए भी उपयुक्त खाद्य सामग्री मुहैया कराने की मांग की है। हिन्दुस्थान समाचार /असरार/ अरविंद-hindusthansamachar.in