बरपेटा जिले में आग की दो घटनाओं में लाखों रुपये की संपत्ति का नुकसान
बरपेटा जिले में आग की दो घटनाओं में लाखों रुपये की संपत्ति का नुकसान
असम

बरपेटा जिले में आग की दो घटनाओं में लाखों रुपये की संपत्ति का नुकसान

news

बरपेटा (असम), 22 नवम्बर (हि.स.)। बरपेटा जिला के दो अलग-अलग इलाकों में लगी आग के दौरान लाखों रुपये की संपत्ति का नुकसन हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार जिला के बरपेटारोड इलाके में राष्ट्रीय राजमार्ग-31 के किनारे श्रीकृष्ण लकड़ी की मिल में रविवार की तड़के अचानक लगी भयावह आग के चलत अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया। हादसे में पूरी मिल जलकर राख हो गयी। इस दौरान लाखों रुपये की कीमती लकड़ी और मिल जल गयी। सूचना मिलते ही मौके पर अग्निशमन विभाग की गाड़ियां पहुंचकर आग पर काबू पाया। मिल का मालिक बरपेटा पौर सभा के पूर्व अध्यक्ष दिलीप साहा हैं। आग बुझाने के लिए सरभोग और बरपेटारोड अग्निशमन विभाग की गाड़ियों को बुलाया गया था। घंटों मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। माना जा रहा है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी। वहीं दूसरी घटना बीती मध्य रात्रि को जिला के हाउली थानांतर्गत इटारभिठा इलाके में बीती मध्य रात्रि को अचानक लगी आग में एक लाइन होटल जलकर राख हो गया। इटारभिठा स्थित मतिहारी नामक लाइन होटल में बीती रात अचानक आग लग गयी। हादसे में एक ट्रक व एक बुलेट बाइक भी क्षतिग्रस्त हो गयी। आग में जलकर राख हुए मतिहारी नामक लाइन होटल परिसर से काफी संख्या में पेट्रोलियम पदार्थों की सामग्री वाले कई ड्रम बरामद हुए हैं। सूत्रों ने दावा किया पेट्रोलियम पदार्थों वाले ड्रम की वजह से ही आग ने भयावह रूप धारण कर लिया। आग बुझाने के लिए बरपेटा, हाउल और बरपेटारोड से अग्निशन विभाग की गाड़ियों को बुलाया गया था। काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। दोनों मामलों में पुलिस ने अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज कर जांच में जुटी हुई है। हिन्दुस्थान समाचार/ अऱविंद-hindusthansamachar.in