नागरिकता संशोधन कानून को रद्द करने की मांग
नागरिकता संशोधन कानून को रद्द करने की मांग
असम

नागरिकता संशोधन कानून को रद्द करने की मांग

news

मोरीगांव (असम), 10 सितम्बर (हि.स.)। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ राज्य में फिर से आवाज उठनी शुरू हो गयी है। सीएए को रद्द करने की मांग को लेकर विभिन्न दल-संगठन इन दिनों विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इस कड़ी में गुरुवार को सीएए को रद्द करने की मांग को लेकर मोरीगांव जिला के जागीरोड के जागीभगत गांव में आंचलिक छात्र संघ 24 घंटे का अनशन कार्यक्रम कर सीएए को रद्द करने की मांग की। विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्र संगठन ने कहा कि सीएए को अगर सरकार रद्द नहीं करती है तो आने वाले समय में और भी जोरदार आंदोलन किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/ असरार/ अऱविंद-hindusthansamachar.in