ठोस कदम के चलते पूसीरे को हासिल हुआ नया ट्रैफिक
ठोस कदम के चलते पूसीरे को हासिल हुआ नया ट्रैफिक
असम

ठोस कदम के चलते पूसीरे को हासिल हुआ नया ट्रैफिक

news

गुवाहाटी, 07 सितम्बर (हि.स.)। पूर्वोत्तर सीमा रेलवे (पूसीरे) अर्थ व्यवस्था में आवश्यक सुधार के लिए ज्यादा से ज्यादा सामग्रियों के परिवहन को सुनिश्चित करने के लिए अपने क्षेत्राधिकार के अंदर मालगाड़ियों के आवागमन को बढ़ाने पर ध्यान दे रही है। इस दिशा में पूसीरे द्वारा कई प्रकार के कदम उठाए गए हैं। पूसीरे के मुख्य जनसंपर्क अदिकारी शुभानन चंदा ने बताया है कि पूसीरे द्वारा उठाए गए कदमों के परिणाम स्वरूप मालगाड़ी की आवाजाही के समय में कमी आई है, जिससे सम्पत्तियों के बेहतर इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके अलावा मालगाड़ी की औसत गति में भी वृद्धि की गई है। सामानों की झंझट से मुक्त लोडिंग एवं अनलोडिंग के लिए 15 गुड्श शेडों में उपलब्ध सुविधाओं को और उन्नत बनाया गया है। विभिन्न शुल्कों तथा अधिभारों में कटौती, रियायत की पेशकश के कारण परिवहनकर्त्ताओं को रेल के माध्यम से अपने सामानों के परिवहन हेतु उत्तसाहित किया है। इसके लिए मिनी एवं टू प्वाइंट रेक के लिए दूरी की बाध्यता का सरलीकरण, ऑटोमोबाइल ट्रैफिक के लिए दो प्वाइंट अनलोडिंग की अनुमति तथा पार्सल ट्रैफिक के लिए लोडिंग एवं अनलोडिंग हेतु निजी साइडिंगों खोलने जैसी विभिन्न प्रकार के नॉन-टैरिफ मानदंड अपनाए जाने के कारण नई ट्रैफिक आकर्षिक हो रहे हैं। उपरोक्त पहल के कारण महामारी की इस अवधि के दौरान पूसीरे को नई ट्रैफिक हासिल हुई है तथा इसलिए स्थानीय आर्थिक व्यवस्था को नई ऊर्जा मिल रही है। पिछले कुछ महीने में पूसीरे द्वारा शुरू की गई नई फ्रेट ट्रैफिक में मुख्य रूप से अजारा से अरुणाचल प्रदेश तक पेप्सी ट्रैफिक की शुरुआत। चांगसारी तथा न्यू गुवाहाटी से अगरतला तक पीवीसी पाइपों का परिवहन किया जा रहा है। बागडोगरा से बांग्लादेश के लिए स्टोन चिप्सों का परिवहन किया जा रहा है। न्यू अलीपुरदुआर तथा जोराई से डिगारु, तेतेलिया, जिरीबाम तथा कुमारघाट तक स्टोन चिप्सों का परिवहन। हासीमारा से बांग्लादेश तक स्टोन चिप्सों का परिवहन किया जा रहा है। श्रीबार एवं पंचग्राम से जिरनिया तक स्टोन चिप्सों का परिवहन किया जा रहा है। कटिहार मंडल के विभिन्न स्टेशनों यानि पूर्णिया, दालखोला, कटिहार, सूर्य़कमाल आदि से बांग्लादेश तक अनाजों का परिवहन किया जा रहा है। पूसीरे को चालू वित्त वर्ष के दौरान इन नई ट्रैफिकों से 50 करोड़ रुपये से 60 करोड़ रुपये तक अतिरिक्त राजस्व की उममीद है। इसके अलावा पूसीरे के सभी मंडलों में स्थापित किए गए बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट (बीडीयू) रेलवे के जरिए परिवहन संबंधी समस्याओं के समाधान प्रदान करने के लिए नियमित रूप से अपने क्षेत्र के व्यापारियों तथा परिवहनकर्त्ताओं से सम्पर्क बनाए हुए हैं। एक समेकित हेलप्लाइन नं. 139 भी सक्रिया किया गया है। रेलवे के जरिए मालों के परिवहन के जरूरतमंद कोई भी व्यक्ति इस नम्बर पर फोन कर आवश्यक सहायता प्राप्त कर सकते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद-hindusthansamachar.in