काति बिहू के सार्वजनिक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने लिया हिस्सा
काति बिहू के सार्वजनिक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने लिया हिस्सा
असम

काति बिहू के सार्वजनिक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने लिया हिस्सा

news

दरंग (असम), 17 अक्टूबर (हि.स.)। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल शनिवार की देर शाम को दरंग जिला मुख्यालय शहर मंगलदै के बामुनपारा-मनपुर पथार (मैदान) में राज्य सरकार की ओर से केंद्रीय रूप में सार्वजनिक तौर पर आयोजित काति बिहू के कार्यक्रम में हिस्सा लिया। दरंग जिला प्रशासन के सौजन्य से आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने तुलसी के पौधे के नीचे दीप जलाकर पूजा-अर्चना करने के साथ ही धान के खेत में भी दीप जलाया। ज्ञात हो कि असमिया संस्कृति के अनुसार राज्य में तीन बिहू रंगाली, भोगाली और कंगाली या काति बिहू मनाने की परंपरा है। बिहू असमिया संस्कृति का मूल आधार है। काति बिहू के अवसर पर किसान अपनी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने की कामना करता है। कारण लगातार तीन महीनों तक कड़ी मेहनत के पश्चात खेतों में धान की फसल तैयार होती है। इस दिन दीप जलाकर ईश्वर से अच्छी फसल की कामना की जाती है। काति बिहू के अवसर पर बामुनपारा-मनपुर पथार में एक हजार से अधिक महिलाओं ने दीप प्रज्वलित कर एक नयनाभिराम दृश्य उत्पन्न किया। इसके चलते पूरे इलाके में धार्मिक और आध्यामिक वातावरण उत्पन्न हो गया। काति बिहू के अवसर पर राज्यवासियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि असमिया जाति की संस्कृति के जीवनधारा को मजबूत बनाने में काति बिहू का एक अहम योगदान है। असमिया कृष्टि-संस्कृति को हरा-भरा बनाने के लिए राज्य सरकार अनेकों कदम उठा रही है। काति बिहू के लिए किसान तथा राज्यवासियों को अपनी शुभकामना देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2016 से वर्तमान राज्य सरकार काति बिहू को सरकारी रूप से आयोजित करती आ रही है। इसके पहले ऐसा नहीं होता था। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार कृषि क्षेत्र में परिवर्तन लाने के लिए स्वायेल हेल्थ कार्ड, फसल बीमा योजना, पीएम किसान निधि योजना समेत अन्य कदम उठाये हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आत्म निर्भर भारत सरीखा अनेकों योजनाएं व कार्यक्रम को अपने हाथों में लिया है। जिससे देश वासियों खासकर किसान वर्ग को काफी लाभ मिल रहा है। शनिवार को काति बिहू के सार्वजनिक कार्यक्रम में सिंचाई विभाग के राज्य मंत्री भबेश कलिता, सांसद दिलीप सैकिया, हाउसफेड के अध्यक्ष तथा विधायक रंजीत दास, विधायक गुरुज्योति दास और विनं सैकिया, असम पर्यटन उन्नयन निगम के अध्यक्ष जयंत मल्ल बरुवा, जिला उपायुक्त दिलीप कुमार बोरा, पुलिस अधीक्षक समेत अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद-hindusthansamachar.in