समानता शब्द पुस्तकों तक सीमित न रहे : जगनमोहन रेड्डी
समानता शब्द पुस्तकों तक सीमित न रहे : जगनमोहन रेड्डी
आन्ध्र-प्रदेश

समानता शब्द पुस्तकों तक सीमित न रहे : जगनमोहन रेड्डी

news

इंदिरा गांधी नगरपालिका स्टेडियम में मुख्यमंत्री ने फहराया राष्ट्रीय ध्वज अमरावती (आंध्र प्रदेश), 15 अगस्त (हि.स.)। 74वें स्वतंत्रता दिवस पर विजयवाड़ा इंदिरा गांधी नगरपालिका स्टेडियम में मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। उन्होंने सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का भी उल्लेख किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री रेड्डी ने कहा कि हर नागरिक को संविधान के नियम और कानून का पालन करना चाहिए। ऐसा करने पर ही राष्ट्र और राज्य का विकास संभव है। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक व्यवस्था के लिये लोकतांत्रिक मूल्यों पर ध्यान देना अनिवार्य है। मुख्यमंत्री ने कहा कि संविधान सामाजिक और आर्थिक समानता प्रदान करता है। इस समानता शब्द को पुस्तकों तक सीमित नहीं किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुये कहा कि हमारी सरकार गरीबों के जीवन को बदलने का प्रयास कर रही है। उन्होंने कोरोना नियंत्रित करने के लिए सरकार की ओर से उठाये गये कदमों का भी उल्लेख किया। रेड्डी ने आरोग्यश्री, एंबुलेंस सेवा, रैतु भरोसा और अन्य योजनाओं को रेखांकित किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे जाति, धर्म और पार्टी की परवाह किए बिना कल्याणकारी योजनाओं को लागू कर रहे हैं। राज्य की वित्तीय हालत ठीक नहीं होने के बावजूद अनेक कल्याणकारी योजनाओं को लागू किया है। उन्होंने कहा कि सरकार राज्य की सभी सिंचाई परियोजना को जल्द से जल्द पूरा करने का प्रयास कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार / नागराज राव-hindusthansamachar.in