वाईएसआर की 71वीं जयंती पर राज्यभर में हुए समारोह
वाईएसआर की 71वीं जयंती पर राज्यभर में हुए समारोह
आन्ध्र-प्रदेश

वाईएसआर की 71वीं जयंती पर राज्यभर में हुए समारोह

news

कड़पा में वाईएसआर घाट पर मुख्यमंत्री ने सपरिवार मनाया वाईएसआर का जन्मदिन सीएम ने वाईएसआर के उत्कृष्ट कार्यों पर अपनी मां की लिखित पुस्तक का किया विमोचन अमरावती (आंध्र प्रदेश), 08 जुलाई (हि.स.)। ताड़ेपल्ली स्थित वाईएसआर कांग्रेस पार्टी कार्यालय पर आज दिवंगत वाईएस राजशेखर रेड्डी की 71वीं जयंती मनाई गई। राज्य सरकार के सलाहकार सज्जल रामकृष्णा रेड्डी ने दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने अपने परिवार के साथ कड़पा जिले के इडुपुलपाया में वाईएसआर का जन्मदिन मनाया। राज्य सरकार ने पार्टी के दिवंगत नेता वाईएसआर की जयंती को किसान दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी। इस मौेके पर बुधवार को राज्यभर कई कार्यक्रम आयोजित किए गए। ताड़ेपपल्ली स्थित पार्टी के मुख्यालय पर आयोजित मुख्य कार्यक्रम में सज्जल रामकृष्णा रेड्डी ने कहा कि यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है कि सीएम ने चुनाव के दौरान दिये गये अपने सभी वादों को एक साल में पूरा किया है। मंगलवार को कड़पा जिले के इडुपुलपाया स्थित वाईएसआर घाट पर मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने वाईएसआर की 71वीं जयंती मनाई। इस अवसर पर उन्होंने अपनी मां वाईएस विजयम्मा की लिखित पुस्तक 'नालो... नातो... वाईएसआर' (मुझमें...मेरे साथ...वाईएआरआर) का लोकार्पण किया। इस मौके पर सीएम जगन ने कहा, "दुनिया में लोग मेरे पिता को एक अच्छे नेता रूप में जानते हैं। मेरी मां ने मेरे पिता में जो अच्छापन देखा है, उस महान व्यक्ति और वक्ता के साथ बिताये लंबे सफर के बारे में इस पुस्तक में उल्लेख किया है। मेरा मानना है कि यह एक अच्छी किताब है। इस मौके पर पुस्तक की लेखिका वाईएस विजयम्मा ने कहा, "वाईएसआर की धर्मपत्नी के रूप मेरे 37 के साल जीवन का सारांश ही यह पुस्तक है। वे एक मानवतावादी थे। जनता से किए गए आश्वासनों को काफी महत्व दिया करते थे। उनके बारे में सभी लोगों को बताने की इच्छा हुई। वाईएसआर ने अनेक लोगों के जीवन में रोशनी भरी है। मैं इसे अनेक लोगों से मिला एक वरदान मानती हूं। हिन्दुस्थान / नागराज-hindusthansamachar.in