korea---villagers-plagued-for-water-hand-pumps-not-made-even-after-complaint
korea---villagers-plagued-for-water-hand-pumps-not-made-even-after-complaint
news

कोरिया- पानी के लिए ग्रामीण त्रस्त, शिकायत के बाद भी नहीं बने हैण्डपम्प

news

कोरिया, 06 अप्रैल (हि.स.)। जिला मुख्यालय से लगभग 12 किमी दूर एक गांव में बीते एक माह से ग्रामीण परेशान है, गांव के लगभग हैंडपंप सूख चुके है, एक हैंडपंप से जैसे तैसे पीने के पानी से उनका गुजर बसर हो रहा है। कई बार जिला प्रशासन को इसकी जानकारी भी दे चुके है, परन्तु जिला प्रशासन ने आज तक हैंडपंप के सुधार की किसी भी प्रकार की कोई कोशिश नहीं की है। जिसके कारण ग्रामीणों में काफी गुस्सा व्याप्त है। होली के बाद जिले भर में भीषण गर्मी पड़ रही है, सुबह 8 बजे से पारा 35 डिग्री पर पहुंच जाता है, दूसरी ओर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की समस्या को लेकर प्रशासन ने किसी भी तरह की कोई रणनीति नही बनाई है, जिसके कारण कई ग्रामों में पेयजल की समस्या को लेकर ग्रामीणों को बड़ी परेशानी उठानी पड़ रही है। बैकुंठपुर जनपद अंतर्गत ग्राम जलियाडांड के रघुबीर सिंह, दलबीर सिंह, अमरजीत सिंह, राम सिंह, संतोष सिंह, अमर सिंह, बुधराम, शिवमंगल, महेन्द्र सिंह, सोनकुंवर, कृष्णा बाई, गायत्री, मानकुंवर, लीलावती, इंजियारों बाई ने बताया कि, बीते एक माह से उनके गांव में पानी की बड़ी समस्या हो गई है, ग्राम पंचायत मनसुख का यह आश्रित ग्राम होने के कारण ना तो जनप्रतिनिधि इधर का रूख करते है और ना ही अधिकारी कभी गांव में आते है, जिसके कारण हमारी समस्याओं को सुनने वाला कोई नहीं है। गांव के लगभग हैंडपंप सूख चुके है, एक हैंडपंप में थोडा पानी आता है, जिसे लेने सुबह से लंबी लंबी लाईन लगती है, कई बार पानी को लेकर विवाद भी हो जाता है, ऐसा नहीं है कि ग्रामीणो ने इसकी जानकारी प्रशासन को नहीं दी है, परन्तु बताने के बाद भी किसी तरह का फायदा उन्हें नहीं हुआ है। उन्होंने जिला प्रशासन से ग्राम जलियाडांड मे पानी की समस्या से निजात दिलाने की मांग की है। हिन्दुस्थान समाचार/ महेन्द्र पाण्डेय