कोंडागांव : बिहान बाजार होगा शुरू, हल्दी, कुकीस, तीखुर, नारियल तेल होंगे मुख्य आकर्षण

कोंडागांव : बिहान बाजार होगा शुरू, हल्दी, कुकीस, तीखुर, नारियल तेल होंगे मुख्य आकर्षण
kondagaon-bihan-bazaar-will-start-turmeric-cookies-pungent-coconut-oil-will-be-the-main-attraction

कोण्डागांव, 27 मई (हि.स.)। उड़ान आजीविका केन्द्र में संचालित गतिविधियों पर समीक्षा हेतु वर्चुवल बैठक गुरुवार को बुलाई गयी, जिसमें आजीविका केन्द्र एवं जिले के स्व सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों के विक्रय हेतु बिहान बाजार को 28 मई से प्रारंभ करने के साथ अन्य मुद्दों पर चर्चा कलेक्टर पुष्पेन्द्र मीणा की अध्यक्षता में की गई। इस बिहान बाजार में बस्तर हल्दी ब्राण्ड की हल्दी, रागी एवं नारियल के कुकीस, तीखुर, कोल्डप्रेस्ड नारियल तेल, अगरबत्ती, धुपबत्ती, स्लीपर सहित उड़ान के अन्तर्गत निर्मित मसाले मुख्य आकर्षण का केन्द्र होंगे, साथ ही प्रोसेस्ड आनाजों का भी विक्रय किया जायेगा। इन सामानों के जिले में विपणन एवं विक्रय हेतु मार्केटिंग पर जोर देते हुए सभी उत्पादों का स्थानीय, अन्य जिलों एवं राज्यों में मांग अनुरूप आपूर्ति करवाने पर चर्चा हुई। इसके अतिरिक्त सभी उत्पादों को कोण्डानार ब्रांड अंतर्गत विपणन के लिए गुणवत्तायुक्त कच्चा माल आपूर्ति हेतु रणनीति तैयार कर स्व-सहायता समूहों को प्रशिक्षण दिये जाने के लिए विशेषज्ञों की मदद ली जायेगी। साथ ही ई-मार्केटिंग कम्पनियों में उत्पादों को रजिस्टर कर विक्रय किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि जिले में उड़ान आजीविका केन्द्र में निर्मित उत्पादों को कंपनी सर्टिफिकेशन प्राप्त होने के बाद यहां निर्मित उत्पादों की ब्रांडिंग कर उनका विक्रय उड़ान महिला कृषक प्रोड्यूसर कम्पनी लिमिटेड के अंतर्गत कोण्डानार ब्रांड के अंतर्गत विपणन किया जा रहा है साथ ही इसी के अंतर्गत अण्डा एवं मुर्गी दानों का भी उत्पादन किया जा रहा है। जिसके तहत् कुकाड़गारकापाल में स्थित अण्डा एवं मुर्गीदाना उत्पादन केन्द्र से अब तक 81 हजार से अधिक अण्डों एवं 13850 किग्रा मुर्गी दाने का उत्पादन किया गया है। इन सभी अण्डों को जिले में चल रहे सुपोषण अभियान के अंतर्गत महिला बाल विकास विभाग को एवं निजी वेंडरों को उपलब्ध कराया गया है साथ ही सम्पूर्ण मुर्गीदानों का प्रयोग अण्डा उत्पादन केन्द्र में ही किया गया है। इस बैठक में केन्द्र में उपभोग के बाद शेष मुर्गी दानों एवं अण्डों को सम्पूर्ण राज्य में सप्लाई किये जाने के लिए रणनीति निर्माण पर भी विचार किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव गुप्ता