बड़ी खबरें

पैर का दर्द दूर करने के लिए मां ने की मसाज, 23 साल के बेटे की मौत

पैर का दर्द दूर करने के लिए मां ने की मसाज, 23 साल के बेटे की मौत

- भारतीय सिनेमा के 'पितामह' कहे जाने वाले दादा साहेब फाल्के उर्फ धुंदीराज फाल्के का जन्म महाराष्ट्र के नासिक से तकरीबन 30 किलोमीटर दूर त्रयंबकेश्वर में 30 अप्रैल 1870 को हुआ था। - उन्होंने 1885 में मुंबई के जेजे स्कूल ऑफ आर्ट से ग्रैजुएशन किया। इसके बाद उन्होंने बड़ौदा के कला भवन से उन्होंने मूर्तिशिल्प इंजीनियरिंग ड्राइंग पेंटिंग और फोटोग्राफी में डिप्लोमा किया। - फाल्के ने गोधरा में एक फोटोग्राफर के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद उन्होंने ने 1903 में भारतीय पुरातत्व विभाग में ड्राफ्ट्समैन के तौर पर काम किया। - उन्होंने प्रख्यात चित्रकार राजा रवि वर्मा के साथ
www.bhaskar.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2018. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.