करण जौहर, सलमान खान की फिल्मों को बिहार में नहीं होने देंगे रिलीजः पप्पू यादव
करण जौहर, सलमान खान की फिल्मों को बिहार में नहीं होने देंगे रिलीजः पप्पू यादव
news

करण जौहर, सलमान खान की फिल्मों को बिहार में नहीं होने देंगे रिलीजः पप्पू यादव

news

8 दिनों के अन्दर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई से जांच कराये सरकार पटना, 21 जून (हि.स.)। बारिश के बाद राजधानी में हुए जलजमाव पर जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने रविवार को कहा कि अगर आठ दिनों के अंदर सुशांत सिंह राजपूत के मौत की सीबीआई से जांच कराने का फैसला नहीं लिया जाता है तो हम पटना उच्च न्यायालय जाएंगे। सुशांत की हत्या हुई है और इसके पीछे जौहर, भट्ट, चोपड़ा और खान हैं। मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी अपील करता हूं कि इसकी जांच जल्द से जल्द कराई जाई। हमारी पार्टी इन कंपनियों की फिल्मों का बिहार में पूरजोर विरोध और बहिष्कार करेगी। पप्पू यादव रविवार को प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मीडियाकर्मियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि पटना में 17 संप हाउस बनाने का टेंडर निकाला गया था, लेकिन आज तक यह नहीं बना। करोड़ों रुपये कहां गए किसी को नहीं मालूम। पटना नगर निगम के विभिन्न अंचलों में नालों की सफाई और जलजमाव से निपटने के लिए लाखों रुपए जारी किए गए थे, लेकिन पहली बारिश में ही सारी पोल खुल गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बताना चाहिए की उन्होंने संप हाउस के निरिक्षण में क्या कमियां पाई। अगर कमियां थीं तो दोषी ठेकेदारों और संबधित अधिकारियों पर कारवाई क्यों नहीं की गई। पहली ही बरसात में सरकारी दावों की हवा निकल गई। इससे पहले राजद के पीरो विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी काशीनाथ सिंह यादव, पूर्व डीआईजी राजेंद्र प्रसाद, वासिफ अली, बेगूसराय के भाजपा युवा मोर्चा के नेताओं सहित विभिन्न दलों के सैकड़ों नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जाप की सदस्यता ली। जाप के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एज़ाज अहमद ने कहा कि, "पार्टी की बढ़ती लोकप्रियता और पप्पू यादव के सेवाभाव के कार्यों से प्रभावित होकर बड़ी संख्या में दूसरे दोस्त के नेता और कार्यकर्ता पार्टी से जुड़ रहे हैं जो बिहार में विकल्प की राजनीति को एक आधार देगा।" इस मौके पर राष्ट्रीय महासचिव राजेश रंजन पप्पू, युवा परिषद् के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. बब्बन यादव और अन्य नेता उपस्थित थे। बीसीसीआई ने 8 दिनों में चीनी कंपनी से करार खत्म नहीं किया तो सुप्रीमो कोर्ट जाएंगे भारत-चीन सीमा विवाद पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि, "अगर चीनी सेना भारत में नहीं घुसी तो क्या लद्दाख का गलवान इलाका चीन का है? प्रधानमंत्री के इस बयान को चीन की मीडिया पिछले दो दिनों से चला चीनी सेना के कृत्यों को सही ठहरा रही हैं। चीन ने भारत के 38 हजार वर्ग किलोमीटर पर कब्ज़ा कर लिया है।" क्या प्रधानमंत्री ने ये मान लिया है कि चीन ने हमारे भू-भाग पर कोई कब्ज़ा नहीं किया है क्यूंकि प्रधानमंत्री के बयान से यह साफ़ है की उन्हें देश की जमीन से ज्यादा अपनी राजनीतिक जमीन को बचाने की फ़िक्र हैं। उन्होंने कहा कि, "बीसीसीआई ने चीनी मोबाइल कंपनी वीवो के साथ करार कर रखा है। इसमें अमित शाह के बेटे जय शाह सचिव है और अनुराग ठाकुर के भाई अरूण धूमल कोषाध्यक्ष हैं। ये सब सिर्फ पैसे के पीछे पड़े हैं। देश के सम्मान और अस्मिता की फिक्र नहीं है। अगर बीसीसीआई ने आठ दिनों में चीनी कंपनी से करार खत्म नहीं किया तो हम उच्चतम न्यायालय जाएंगे।" हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/विभाकर-hindusthansamachar.in