काबुल गुरुद्वारा नरसंहार का कृत्य मानवता के खिलाफ जघन्य अपराध चरंगू Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

काबुल गुरुद्वारा नरसंहार का कृत्य मानवता के खिलाफ जघन्य अपराध : चरंगू

काबुल गुरुद्वारा नरसंहार का कृत्य मानवता के खिलाफ जघन्य अपराध : चरंगू

काबुल गुरुद्वारा नरसंहार का कृत्य मानवता के खिलाफ जघन्य अपराध : चरंगू जम्मू, 25 मार्च (हि.स.)। भाजपा के वरिष्ठ नेता अश्वनी कुमार चरंगू ने बुधवार को कहा कि अफगानिस्तान के काबुल में मुख्य गुरुद्वारा में हिंदू-सिख समुदाय का चुनिंदा आधार पर सामूहिक नरसंहार मानवता के खिलाफ एक जघन्य अपराध है। उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब अफगानिस्तान सहित समूचा

विश्व कोरोना वायरस की महामारी के खिलाफ संयुक्त लड़ाई लड़ रहा हो तो आतंकवाद का यह कृत्य न केवल शर्मनाक और जघन्य है बल्कि बर्बरतापूर्ण भी है। उन्होंने कहा कि एक बार फिर से सीरिया-इराक-अफगानिस्तान में सक्रिय आतंकी अफगानिस्तान में असहाय अल्पसंख्यकों को निशाना बना रहे हैं ताकि उनको वहां से भगाया जा सके। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में 1989-90 के घटनाक्रमों के बाद से वहां से आए लाखों शरणार्थियों ने यूरोप, भारत और अमेरिका में शरण ली है। भाजपा नेता ने कहा कि यह अफगानिस्तान के गैर-मुस्लिम अल्पसंख्यकों के वहां पर सुरक्षित नहीं होने का एक और भयावह उदाहरण है। उन्होंने कहा कि सीएए के तहत भारत सरकार द्वारा अफगानिस्तान के गैर-मुस्लिम अल्पसंख्यकों को भारतीय नागरिकता प्रदान करने संबंधी कानून में हाल ही में किया गया संशोधन पूरी तरह से तर्कसंगत है। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार