jagdalpur-bjp-councilor-submits-memorandum-in-protest-against-premium-foreign-liquor-shop
jagdalpur-bjp-councilor-submits-memorandum-in-protest-against-premium-foreign-liquor-shop
news

जगदलपुर:भाजपा पार्षद दल ने प्रीमियम विदेशी मदिरा दुकान के विरोध में सौंपा ज्ञापन

news

पूर्ण शराबबंदी का वादा करने वाली कांग्रेस की महापौर प्रीमियम विदेशी मदिरा दुकान खुलवाने में लगी जगदलपुर,18 फरवरी(हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी पार्षद दल द्वारा नवीन प्रीमियम विदेशी मदिरा दुकान खोलने के विरोध करते हुए महापौर एवं कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया है। विदित हो कि राज्य शासन ने शहर में एक नवीन प्रीमियम विदेशी मदिरा दुकान खोलने का निर्णय लिया है। इस संबंध में नगर निगम से जिला प्रशासन के द्वारा आपत्ति रहित वैकल्पिक स्थल पर निर्मित दुकान की मांग की गई थी। जिसे महापौर द्वारा आनन-फानन में त्वरित रूप से एमआईसी और सामान्य सभा की प्रत्याशा में देने की अनुमति प्रदान की थी, इतना ही नहीं बाद में इसे एमआईसी में कूटरचना करते हुए और फिर उसी विषय को सामान्य सभा में छलपूर्वक विषय का परिवर्तन करते हुए बिना चर्चा कराए बहुमत के आधार पर पास कराया गया। निगम ने नवीन प्रीमियर विदेशी मदिरा दुकान खोलने के संबंध में विषय को परिवर्तित कर आबकारी विभाग को दुकान देने के संबंध में विषय लाया गया कि यह शहर की जनता के साथ धोखा है। जिस दुकान को निगम ने आपत्ति रहित माना है वह दुकान के दीवाल से सटा हुई शासकीय पुलिस चिकित्सालय है, उसी के सामने गौरव पथ और उसके सामने पुलिस ग्राउंड है, जिसमें15 अगस्त और 26 जनवरी जैसे राष्ट्रीय पर्व का आयोजन होता है, और साल भर वहां खेल कूद का आयोजन किया जाता है। दुकान के बगल में शहर का पुराना और प्रतिष्ठित शासकीय भगत सिंह स्कूल है, जिसमें काफी तादाद में विद्यार्थी अध्ययन करते हैं। निगम ने वार्ड वासियों को और ना ही शहरवासियों को इस संबंध में कुछ बतलाया और ना ही आबकारी एक्ट का पालन करना उचित समझा। निगम के नेता प्रतिपक्ष संजय पांडे ने कहा है कि जिम्मेदार जनप्रतिनिधि शहर को बर्बाद करने और शहर को मदिरालय में परिवर्तित करने लगे हुए हैं। जिस पार्टी के मुखिया ने पूर्ण शराब बंदी का वादा जनता से किया गया था ,उसी पार्टी के महापौर द्वारा ठीक उलट शराब को और प्रचलित करने केलिए प्रीमियम विदेशी मदिरा दुकान खोलने के लिए दुकान की अनुमति प्रदान करती है, और वह भी ऐसे समय जब कोरोना अपने पूरे शबाब पर था। हिन्दुस्थान समाचार/ राकेश पांडे-hindusthansamachar.in