शी चिनफिंग और उनके पिता दोनों जनसेवा को प्रतिबद्ध

 शी चिनफिंग और उनके पिता दोनों जनसेवा को प्रतिबद्ध
xi-jinping-and-his-father-both-committed-to-public-service

बीजिंग, 19 जून (आईएएनएस)। शी चिनफिंग और उनके पिता शी चोंगश्युन हमेशा आम लोगों का ख्याल रखते हैं। वे जांच और अनुसंधान को बहुत महत्व देते हैं, मेहनती और मितव्ययी भी हैं। 11 मई 2020 को, शानशी प्रांत के ताथोंग शहर में फांगछंग नव गांव में शी चिनफिंग ने एक ग्रामीण के घर में स्थानीय लोगों के साथ स्नेहपूर्ण बातचीत की। इधर के कई सालों में वे गांव-गांव जाकर ग्रामीणों के साथ बातचीत करते हैं। लोग कहते हैं कि वे अपने पिता शी चोंगश्युन की तरह आम लोगों के साथ घनिष्ठ संबंध बनाए रखते हैं। शी चिनफिंग और उनके पिता शी चोंगश्युन दोनों चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य हैं और वे हमेशा नागरिकों की सेवा करने, नागरिकों पर निर्भर रहने, नागरिकों से आने और नागरिकों में जाने वाली मास लाइन पर डटे रहे हैं। एक अमेरिकी विद्वान सिडनी रिटन बर्ग, जिन्होंने शी चोंगश्युन के साथ चर्चा की थी, पुरानी बातों को याद करते हुए उन्होंने कहा कि वे कहीं भी जाते थे, तो ऐसा लगता था जैसे कि वे हर ग्रामीण व्यक्ति से परिचित हों। शी चिनफिंग को अपने पिता से कई कीमती और महान गुण विरासत में मिले और उन्होंने ग्रहण किए। पिता और पुत्र दोनों जांच और अनुसंधान को महत्व देते हैं। साल 1978 में 65 वर्षीय शी चोंगश्युन क्वांगतोंग प्रांत के शीर्ष नेता थे। जुलाई और अगस्त की गर्मियों में उन्होंने स्थानीय 21 काउंटियों का निरीक्षण दौरा किया था। उस समय छिंगहुआ विश्वविद्यालय में पढ़ रहे शी चिनफिंग गर्मियों की छुटिट्यों में सामाजिक अभ्यास गतिविधि में भागीदारी के लिए क्वांगतोंग गए और पिता के साथ गांव-गांव का दौरा भी किया। वे पिता जी के जांच और अनुसंधान की कार्यपद्धति को बहुत महत्व देते हैं। शी चोंगश्युन एक मेहनती और मितव्ययी व्यक्ति थे। वे बच्चों के प्रति सख्ती से पारिवारिक शिक्षा देते थे। इधर के कुछ सालों में शी चिनफिंग ने कई स्थलों का दौरा किया है। वे जहां भी जाते हैं, प्रतिनिधिमंडल से होटल में रहने व अन्य चीजों में मितव्ययिता बरतने को कहते हैं। वे कहते हैं कि उनके रहने का स्थान भोग-विलास की जगह न बने, बस साफ-सुथरा और आरामदायक होना ही पर्याप्त है। पिता के शब्दों और कार्यो से शी चिनफिंग ने बहुत कुछ सीखा है, जैसे कि लोगों के लिए विशुद्ध रूप से लाभकारी व्यक्ति कैसे बना जाए। मास लाइन, जांच और अनुसंधान, मेहनत और मितव्ययिता, यह चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की पुरानी विरासत है। साथ ही शी चोंगश्युन व शी चिनफिंग जनसेवा को भी प्रतिबद्ध इंसान हैं, जिनकी प्रतिबद्धता व देशभक्ति भाव को आगे बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। (साभार : चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग) --आईएएनएस एसजीके/एएनएम