शेनचो-12 अंतरिक्ष यात्रियों को पृथ्वी पर लौटने के बाद क्यों ले जाया गया?

 शेनचो-12 अंतरिक्ष यात्रियों को पृथ्वी पर लौटने के बाद क्यों ले जाया गया?
why-were-the-shencho-12-astronauts-carried-away-after-their-return-to-earth

बीजिंग, 17 सितम्बर (आईएएनएस)। 17 सितंबर को निये हाइशेंग, ल्यू बोमिंग और थांग होंगबो सहित तीन चीनी अंतरिक्ष यात्री चीन के शेनचो-12 अंतरिक्ष यान के माध्यम से सुरक्षित रूप से चीन में डोंगफेंग मुख्य लैंडिंग स्थल पर लौट आए। इससे पहले 16 तारीख को तीन चीनी अंतरिक्ष यात्री शेनचो 12 अंतरिक्ष यान में सवार होकर चीनी अंतरिक्ष स्टेशन से रवाना हुए थे। तीन अंतरिक्ष यात्रियों ने चीन के मानवयुक्त अंतरिक्ष यान के इतिहास में अंतरिक्ष में सबसे लंबे समय तक रहने का रिकॉर्ड बनाया- पूरे 90 दिन। क्योंकि तीनों अंतरिक्ष यात्री लंबे समय तक अंतरिक्ष में रहे, अंतरिक्ष में भारहीन वातावरण से शरीर की मांसपेशियों को आराम मिलेगा, हड्डियां ढीली हो जाएंगी, और गुरुत्वाकर्षण की अनुपस्थिति के कारण हृदय प्रणाली अधिक थक जाएगी। इसलिए, शेनचो 12 अंतरिक्ष यात्रियों के उतरने के बाद, उन्हें जमीन के गुरुत्वाकर्षण के वातावरण के अनुकूल होने के लिए केबिन में एक लंबा समय बिताने की जरूरत है, और फिर कर्मचारियों की सहायता से केबिन से बाहर निकलें, और केबिन से बाहर निकलने के बाद सभी गतिविधियां सुनिश्चित करने के लिए सीटें लेती हैं। ताकि अंतरिक्ष यात्रियों की सुरक्षा की जा सके। (साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग) --आईएएनएस एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.