जब पश्चिम ने रक्षा उपकरण नहीं दिए, तब पाक को दूसरे स्रोत तलाशने पड़े : जनरल बाजवा

 जब पश्चिम ने रक्षा उपकरण नहीं दिए, तब पाक को दूसरे स्रोत तलाशने पड़े : जनरल बाजवा
when-west-did-not-provide-defense-equipment-then-pak-had-to-find-other-sources-gen-bajwa

इस्लामाबाद, 6 अप्रैल (आईएएनएस)। हाल ही में हुई सुरक्षा वार्ता के दौरान एक अमेरिकी पत्रकार को जवाब देते हुए पाकिस्तान के थल सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने बताया कि जब पश्चिमी देशों ने रक्षा उपकरणों से वंचित कर दिया, तब पाकिस्तान को अन्य स्रोतों की तलाश करनी पड़ी। द न्यूज के मुताबिक, एक अमेरिकी पत्रकार ने सेना प्रमुख से पूछा था कि वह अगले दशक में चीन-पाक सुरक्षा सहयोग को कैसे देखते हैं। बाजवा ने कहा कि संपन्न हुए कई रक्षा सौदों को रद्द कर दिया गया है, और पूछा, तो हम क्या करें? चीन पाकिस्तान का पड़ोसी और बहुत महत्वपूर्ण मित्र है। इसने हमें कई तरह से मदद की है। बाजवा ने पत्रकार को बताया कि पाकिस्तान को पश्चिम से सैन्य उपकरण देने से मना कर दिया गया था, हालांकि सौदों को अंतिम रूप दे दिया गया था। उदाहरण देते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि पाकिस्तान ने तुर्की से अमेरिका निर्मित इंजनों से लैस टी-129 हेलीकॉप्टर खरीदे थे, लेकिन अमेरिका ने तीसरे पक्ष के प्रमाणन की अनुमति देने से इनकार कर दिया। द न्यूज के मुताबिक, उन्होंने कहा कि जर्मनी ने पनडुब्बियों के लिए पाकिस्तान के इंजन उपलब्ध कराने से इनकार कर दिया, यह कहते हुए कि फ्रांस ने भी भारत के दबाव में ऐसा ही किया, जो एक बड़ा खरीदार (फ्रांसीसी हथियारों का) है। बाजवा ने अमेरिकी पत्रकार से कहा, तो हम क्या करें। यह आपकी (अमेरिका) की जिम्मेदारी है कि आप संतुलन बनाए रखें। यदि आप एक तरफ झुके हुए हैं, तो हमें खुद को बचाने के लिए हथियार प्राप्त करने के लिए स्रोत खोजने होंगे। बाजवा ने पत्रकार से कहा, अगर आपकी नीति सही है तो आपको (अमेरिका को) आत्मनिरीक्षण करने की जरूरत है। बाजवा ने आगे कहा कि पाकिस्तान खेमे की राजनीति की तलाश में नहीं है, बल्कि वह संतुलन बनाए रखना पसंद करेगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने ऐतिहासिक रूप से अमेरिका के साथ अच्छे संबंध साझा किए हैं और सीटो, सेंटो और बगदाद समझौते का हिस्सा रहा है, पाकिस्तान ने वियतनाम और अफगान मुद्दों पर अमेरिका का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सेना को बड़े पैमाने पर अमेरिका द्वारा निर्मित और प्रशिक्षित किया गया था। उन्होंने कहा, हमारे पास सबसे अच्छे उपकरण अमेरिकी उपकरण हैं। हमारे पास अभी भी अमेरिका और हमारे पश्चिमी दोस्तों के साथ गहरा सहयोग है। महीनों पहले अमेरिकी वायुसेना यहां थी, हमारी वायुसेना के साथ एक नियमित अभ्यास किया था। बाजवा ने अमेरिकी पत्रकार से कहा कि आप (अमेरिका) ने वहां (अफगानिस्तान में) जो गंदगी पैदा की है, उसे देखें.. हम इसे साफ करने की कोशिश कर रहे हैं। इसलिए हमने (उस समर्थन के लिए) बहुत अधिक कीमत चुकाई है। तो क्या हैं आप हमारे बारे में क्या कर रहे हैं? क्या आप संतुलन बनाए हुए हैं या नहीं? --आईएएनएस एसजीके

अन्य खबरें

No stories found.