वांग यी ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचेलेट से मुलाकात की

 वांग यी ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचेलेट से मुलाकात की
wang-yi-meets-with-un-high-commissioner-for-human-rights-michelle-bachelet

बीजिंग, 24 मई (आईएएनएस)। 23 मई को चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने क्वांगचो शहर में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाचेलेट से मुलाकात की। वांग यी ने बाचेलेट की चीन यात्रा का स्वागत किया और कहा कि यह यात्रा समझ बढ़ाने, सहयोग को मजबूत करने और स्रोत को साफ करने की यात्रा है। वांग यी ने कहा कि चीन मानवाधिकारों के कार्य को विकसित करने में पांच हमेशा का पालन करता है। पहला, जीवन के अधिकार को पहले स्थान पर रखें। चीन न केवल दुनिया की 9 प्रतिशत से कम भूमि पर दुनिया की आबादी के पांचवें हिस्से का पेट भरता है, बल्कि दुनिया की सबसे बड़ी सामाजिक सुरक्षा प्रणाली और सार्वभौमिक चिकित्सा सुरक्षा नेटवर्क भी बनाया है। नए कोरोनावायरस के प्रकोप के बाद से, चीन ने जन सर्वोच्च वाले सिद्धांत का पालन किया है और लोगों के जीवन व स्वास्थ्य की यथासंभव रक्षा की है। दूसरा, विकास के अधिकार को बढ़ावा देने को प्राथमिकता दें। चीन ने पूर्ण गरीबी की समस्या को हल किया है, संयुक्त राष्ट्र 2030 के सतत विकास एजेंडा के गरीबी कम करने के लक्ष्य को निर्धारित समय से 10 साल पहले पूरा किया है, और 1.4 अरब से अधिक चीनी लोगों ने खुशहाल समाज में प्रवेश किया है। चीन ने साझा समृद्धि की दिशा में प्रयास करते हुए अपने दूसरे शताब्दी लक्ष्य की दिशा में एक नई यात्रा शुरू की है। तीसरा, नागरिकों के वैध अधिकारों और हितों की रक्षा को मूल कार्य के रूप में लें। प्रक्रिया लोकतंत्र और परिणाम लोकतंत्र, प्रक्रियात्मक लोकतंत्र और वास्तविक लोकतंत्र, प्रत्यक्ष लोकतंत्र और अप्रत्यक्ष लोकतंत्र, चुनावी लोकतंत्र और परामर्श लोकतंत्र के संयोजन को हासिल करते हुए चीन पूरी प्रक्रिया में लगातार जनता के लोकतंत्र का विकास कर रहा है। चौथा, जातीय अल्पसंख्यकों जैसे विशिष्ट समूहों के अधिकारों की सुरक्षा एक महत्वपूर्ण विषय रहा है। जातीय अल्पसंख्यक क्षेत्रों को समान विकास और समृद्धि प्राप्त करने में मदद करें, और कानून के अनुसार समान स्तर पर राज्य के मामलों का प्रबंधन करने के लिए सभी जातीय समूहों के लोगों के अधिकारों की रक्षा करें। पांचवां, लोगों की सुरक्षा को दीर्घकालिक लक्ष्य के रूप में लें। चीन एक सुरक्षित चीन के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध है, और हाल के वर्षों में चीनी लोगों की सुरक्षा की भावना 98 प्रतिशत से अधिक है। वांग यी ने यह भी कहा कि अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकारों को विकसित करने के लिए सबसे पहले हमें आपसी सम्मान का पालन करना और मानवाधिकारों का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए। दूसरा, हमें निष्पक्षता का पालन करना और दोहरे मानकों में शामिल नहीं होना चाहिए। तीसरा, तथ्यों से सच्चाई की तलाश करनी चाहिए और राष्ट्रीय परिस्थितियों एवं विकास के चरणों से विचलित नहीं होना चाहिए। चौथा, हमें खुलेपन और समावेशिता का पालन करना और टकराव में शामिल नहीं होना चाहिए। उधर, बाचेलेट ने आर्थिक सामाजिक विकास और मानवाधिकार संरक्षण को बढ़ावा देने में चीन द्वारा प्राप्त महत्वपूर्ण उपलब्धियों पर बधाई दी और आशा जतायी कि इस यात्रा से लाभ उठाकर दोनों पक्ष आपसी समझ और विश्वास को बढ़ाएंगे, संयुक्त रूप से वैश्विक चुनौतियों का मुकाबला करेंगे और समान रूप से अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार कार्य के विकास को बढ़ावा देंगे। (साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग) --आईएएनएस एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.