युगांडा ने पर्यटकों के लिए गैण्डा अभ्यारण्य को फिर से खोला

 युगांडा ने पर्यटकों के लिए गैण्डा अभ्यारण्य को फिर से खोला
uganda-reopens-rhinoceros-sanctuary-for-tourists

कंपाला, 11 जून (आईएएनएस)। युगांडा के जीवा गैंण्डा अभ्यारण्य को एक सप्ताह पहले बंद किए गए प्रबंधन विवाद के बाद पर्यटकों के लिए फिर से खोल दिया गया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, युगांडा वन्यजीव प्राधिकरण (यूडब्ल्यूए), एक राज्य द्वारा संचालित संरक्षण एजेंसी, ने गुरुवार को जारी एक बयान में कहा कि पर्यटक अब नाकासोंगोला के मध्य जिले में स्थित अभ्यारण्य का दौरा कर सकते हैं। यूडब्ल्यूए ने कहा, गैंण्डा फंड युगांडा से प्राप्त वर्तमान 33 दक्षिणी सफेद गैंडे अच्छे स्वास्थ्य में हैं। हम जनता को आश्वस्त करते हैं कि अभ्यारण्य गैंडों के प्रजनन में उत्कृष्टता का केंद्र बना रहेगा। अप्रैल में बंद होने से पहले राइनो फंड युगांडा पहले सैंक्च ुअरी का प्रबंधन करता था। यूडब्ल्यूए के अनुसार, गैंडों को राष्ट्रीय उद्यानों में स्थानांतरित करने के बारे में अध्ययन चल रहे हैं जहां अधिक जगह है। जीवा अधिकतम वहन क्षमता तक पहुंचने वाला है। युगांडा में बड़ी संख्या में गैंडे हुआ करते थे, विशेष रूप से उत्तरी सफेद गैंडे की प्रजाति। ये सभी 1970 और 1980 के दशक की शुरूआत में देश में हुए गृहयुद्धों के दौरान विलुप्त हो गए थे। 1983 तक, युगांडा में गैंडों को विलुप्त घोषित कर दिया गया था। लेकिन 2005 में जीवा राइनो सैंक्च ुअरी की स्थापना और राइनो फंड युगांडा द्वारा गैंडों का पुन: परिचय देश और विश्व स्तर पर संरक्षणवादियों के लिए अच्छी खबर थी। सैंक्च ुअरी, जो सवाना और वुडलैंड्स के 70 वर्ग किलोमीटर को मापता है, अन्य वन्यजीवों जैसे मृग और दुर्लभ शोबिल पक्षी का भी घर है। --आईएएनएस एसएस/आरजेएस