रूस ने नॉर्ड स्ट्रीम 2 पाइपलाइन में गैस-इन प्रकिया शुरु की

 रूस ने नॉर्ड स्ट्रीम 2 पाइपलाइन में गैस-इन प्रकिया शुरु की
russia-begins-gas-in-process-in-nord-stream-2-pipeline

मोस्को, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। रूस की गजप्रोम के स्वामित्व वाली परियोजना की संचालन कंपनी ने कहा कि नॉर्ड स्ट्रीम 2 प्राकृतिक गैस पाइपलाइन की पहली स्ट्रिंग के लिए गैस-इन प्रक्रिया शुरू हो गई है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने सोमवार को एक बयान में नॉर्ड स्ट्रीम 2 एजी के हवाले से कहा कि बाद के तकनीकी परीक्षणों के लिए आवश्यक इन्वेंट्री और दबाव बनाने के लिए यह स्ट्रिंग धीरे-धीरे भर दी जाएगी। इसमें कहा गया है कि पाइपलाइन की अखंडता को सुनिश्चित करने के लिए पाइपलाइन की पहली स्ट्रिंग में प्री-कमीशनिंग गतिविधियां चल रही हैं, जबकि दूसरी स्ट्रिंग के लिए प्री-कमीशनिंग चरण चल रहे हैं। रूस की गैस उद्योग की दिग्गज कंपनी गजप्रोम ने 10 सितंबर को प्रमुख ऊर्जा परियोजना के निर्माण के पूरा होने की घोषणा की है। हालांकि अमेरिका ने बार-बार इसका विरोध किया है। 1,230 किलोमीटर लंबी पाइपलाइन से बाल्टिक सागर के रास्ते रूस से जर्मनी तक सालाना 55 बिलियन क्यूबिक मीटर प्राकृतिक गैस आने की उम्मीद है। गजप्रोम इसे वर्ष के अंत से पहले परिचालन में लाने की उम्मीद कर रहे है। अमेरिका लंबे समय से दावा कर रहा है कि नॉर्ड स्ट्रीम 2 मास्को द्वारा एक भू-राजनीतिक युद्धाभ्यास है जो यूक्रेन की ऊर्जा को यूरोप में स्थानांतरित करने और रूसी गैस पर यूरोपीय निर्भरता को बढ़ाने में यूक्रेन की भूमिका को कमजोर करेगा। लेकिन जर्मनी और रूस ने इस बात पर जोर दिया है कि यह परियोजना पूरी तरह से व्यावसायिक है। --आईएएनएस एमएसबी/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.