कोरोना के कहर के बीच भारतीयों के प्रति एकजुटता दिखा रहे पाकिस्तानी नागरिक

 कोरोना के कहर के बीच भारतीयों के प्रति एकजुटता दिखा रहे पाकिस्तानी नागरिक
pakistani-citizens-showing-solidarity-towards-indians-amidst-corona39s-havoc

इस्लामाबाद, 26 अप्रैल (आईएएनएस)। भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर अपने चरम पर है और यहां पिछले कुछ दिनों से कोरोना के नए मामलों और संक्रमण की वजह से होने वाली मौतों में भारी वृद्धि हुई है। इस बीच पाकिस्तान के लोग, जिनमें राजनेता और पत्रकार भी शामिल हैं, वह अपने पड़ोसी देश में स्थिति के जल्द सामान्य होने की दुआ कर रहे हैं और भारतीयों को शुभकामनाएं भेज रहे हैं। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर ने भारत के स्वास्थ्य ढांचे को तहस-नहस कर दिया है, जिसके बाद पाकिस्तान के नागरिकों ने चिंता जताने के साथ ही हालात जल्द सामान्य होने की दुआ की है, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों से जुड़ी कई हस्तियां भी शामिल हैं। इस संकट की घड़ी में, जब पूरी दुनिया भर के लोग भारत के लोगों के लिए प्रार्थना कर रहे हैं और शुभकामनाएं दे रहे हैं, सोशल मीडिया पर भारत के साथ खड़े होने को लेकर भी हैशटैग चल निकले हैं। इन दिनों हैशटैग पाकिस्तान स्टैंड्स विद इंडिया (पाकिस्तान भारत के साथ खड़ा है) और हैशटैग इंडिया नीड ऑक्सीजन (भारत को ऑक्सीजन की जरूरत है) काफी चलन में है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर यह हैशटैग शीर्ष ट्रेंड के रूप में सामने आए हैं। पाकिस्तानी नागरिक नुजहत उथमानी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि 70 सालों से अधिक समय तक व्यापत तनाव के बाद पाकिस्तान में हैशटैग पाकिस्तान स्टैंड्स विद इंडिया जैसे हैशटैग देखना, एक दिल छू लेने वाला अहसास है। नुजहत ने कहा कि वास्तव में मानवता ही हमारा सबसे महत्वपूर्ण विश्वास है और अच्छे पड़ोसी होने के लिए इससे बढ़कर और क्या हो सकता है। उन्होंने इंडिया नीड ऑक्सीजन हैशटैग का भी उपयोग किया। वहीं असीम अजहर ने ट्वीट करते हुए कहा कि एक राष्ट्र के रूप में हम अपने पड़ोसी भारत के लिए इस कठिन समय से उबरने के लिए प्रार्थना करते हैं। अजहर ने पाकिस्तान स्टैंड्स विद इंडिया हैशटैग का उपयोग भी किया। एक अन्य यूजर सोहा हुसैन ने कहा कि हमारे पड़ोसी देश भारत में तेजी से बढ़ते कोविड-19 मामलों को देखकर उनका दिल पसीज रहा है। उन्होंने अन्य सोशल मीडिया यूजर्स से अपील करते हुए कहा कि आइए उन देशों के लिए प्रार्थना करें, जो कोविड-19 के खिलाफ लड़ रहे हैं। भारत के लिए प्रार्थना करें। सोहा ने पाकिस्तान स्टैंड्स विद इंडिया के साथ ही इंडिया नीड ऑक्सीजन हैशटैग का भी उपयोग किया। भारत के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, भारत में सोमवार को पिछले 24 घंटों के दौरान 3,52,000 नए कोरोना मामले सामने आए हैं, जबकि इस दौरान संक्रमण की वजह से 2,800 से अधिक लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। देश में महामारी के बाद से कुल 1,90,000 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। भारत में कोरोनावायरस की वजह से ऑक्सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है और हर दिन अब रिकॉर्ड मौतें हो रही हैं। इस बीच भारत में कोरोना के संकट के मद्देनजर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की प्रतिक्रिया आई है। इमरान खान ने खतरनाक कोरोनावायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे भारत के लोगों के साथ अपनी एकजुटता प्रकट की है। इमरान खान ने 24 अप्रैल को ट्वीट करते हुए कहा, मैं भारत के लोगों के साथ अपनी एकजुटता व्यक्त करना चाहता हूं, क्योंकि वे कोरोना की खतरनाक लहर से लड़ रहे हैं। हम हमारे पड़ोस और दुनिया में महामारी से पीड़ित सभी लोगों के शीघ्र ठीक होने की कामना करते हैं। हमें मानवता के साथ मिलकर इस वैश्विक चुनौती से लड़ना चाहिए। इसके अलावा पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी भारत के लोगों को समर्थन देते हुए एकजुटता जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि मानवीय संकट के लिए प्रतिक्रिया राजनीतिक विचारों से परे भी आनी चाहिए। विदेश मंत्री कुरैशी ने 24 अप्रैल को ट्वीट कर बताया कि वायरस के खिलाफ लड़ाई में जरूरी वेंटीलेटर, एक्स-रे मशीन समेत मेडिकल उपकरणों की मदद के लिए दिल्ली से संपर्क किया गया है। कुरैशी ने कहा, वायरस इस सिद्धांत की याद दिलाता है कि मानवीय संकट के लिए प्रतिक्रिया राजनीतिक विचारों से परे भी आनी चाहिए। शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान महामारी से लड़ने के लिए सार्क देशों के साथ काम करेगा। इसके अलावा उन्होंने भारत में प्रभावित परिवारों के प्रति समर्थन और संवेदनाएं व्यक्त की। पाकिस्तान की मुख्यधारा की मीडिया ने भारत में कोरोना स्थिति को व्यापक कवरेज दी है, जबकि यहां की मस्जिदों में लोगों की सलामती को लेकर भी विशेष प्रार्थना की पेशकश की जा रही है। वरिष्ठ पत्रकार नसीम जहरा ने भारत में नागरिकों की पीड़ा को देखते हुए उनके प्रति हमदर्दी जताई है। जहरा ने कहा कि हमारी दुआ है कि किसी चमत्कार से अल्लाह आपके (भारतीय नागरिक) दर्द को समाप्त कर दे। उन्होंने भारत को ऑक्सीजन की कमी से जल्द से जल्द निपटने के लिए भी प्रार्थना की। --आईएएनएस एकेके/एएनएम