पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने सरेआम बलात्‍कारियों को दी फाँसी, रासायनिक नपुंसकीकरण (Sterilization)का किया समर्थन
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने सरेआम बलात्‍कारियों को दी फाँसी, रासायनिक नपुंसकीकरण (Sterilization)का किया समर्थन
दुनिया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने सरेआम बलात्‍कारियों को दी फाँसी, रासायनिक नपुंसकीकरण (Sterilization)का किया समर्थन

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने सरेआम बलात्‍कारियों को दी फाँसी, रासायनिक नपुंसकीकरण (Sterilization)का किया समर्थन

mukesh tiwari

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने सरेआम बलात्‍कारियों को दी फाँसी, रासायनिक नपुंसकीकरण (Sterilization)का किया समर्थन. पाकिस्‍तान में विदेशी महिला के साथ कार से खींचकर बलात्‍कार की घटना को लेकर देश ही नहीं दुनियाभर में आलोचना के बाद पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान हरकत में आए हैं। उन्‍होंने देश में बलात्‍कारियों और यौन दुर्व्‍यवहार करने वालों के खिलाफ जोरदार कार्रवाई का आह्वान किया है। इमरान ने ऐसे बलात्‍कारियों को सरेआम फांसी या फिर उन्‍हें रासायनिक बंध्याकरण करने का सुझाव दिया है।

इमरान खान ने यौन दुव्‍यर्वहार करने वालों का एक नैशनल रजिस्‍टर बनाने का आह्वान किया। पाकिस्‍तानी पीएम ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि उन्‍हें लगता है कि बलात्‍कारियों के तत्‍काल रासायनिक बंध्‍याकरण करने की जरूरत है। अगर ऐसा न हो तो कम से कम बलात्‍कारियों का ज‍बरन सर्जरी कराया जाए ताकि वे भविष्‍य में दोबारा यौन अपराध न कर सकें।

'अपराध करने वालों को ऐसी सजा दी जाए जो दूसरों के लिए सबक हो'

इमरान ने कहा कि रेप और यौन अपराधों को लेकर एक ग्रेडिंग सिस्‍टम बनाया जाए। इसमें सबसे घृणित अपराध करने वाले अपराधी को ऐसा बना दिया जाए ताकि वह इसे दोहरा न सके। उन्‍होंने कहा कि यौन अपराध करने वालों को ऐसी सजा दी जाए जो दूसरों के लिए सबक हो। उन्‍होंने बलात्‍कारियों को सरेआम फांसी देने का भी आह्वान किया। इमरान ने कहा कि प्रशासन के लिए यह संभव नहीं है कि वह यह ठीक-ठीक पता लगा सके कि देश में कितने बलात्‍कार होते हैं।

बता दें पाकिस्तान में बच्चों के सामने विदेशी महिला के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना के बाद जबरदस्त विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इस मामले की जांच कर रहे अधिकारी ने पीड़ित महिला को ही इसके लिए जिम्मेदार बता दिया। जिसके बाद से लोगों का गुस्सा और भड़क गया। बताया जा रहा है कि इस मामले में पुलिस ने अबतक 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। लाहौर समेत पाकिस्तान के अधिकतर शहरों में बड़ी संख्या में महिलाएं इस घटना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रही हैं। कई जगह महिलाओं ने आजादी-आजादी के नारे भी लगाए।