अहिंसा के पुजारी अश्वेत नेता जान लेविस को अंतिम विदाई
अहिंसा के पुजारी अश्वेत नेता जान लेविस को अंतिम विदाई
दुनिया

अहिंसा के पुजारी अश्वेत नेता जान लेविस को अंतिम विदाई

news

एटलांटा, 31 जुलाई (हि.स.)। नागरिक अधिकारों के लिए छह दशक तक संघर्षरत अश्वेत नेता जान लेविस को एक सर्वसम्मत हीरो के रूप में गुरुवार को एबेनीज़र बापटिस्ट चर्च के प्रांगण में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गयी। इस विदाई समारोह में पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, बिल क्लिंटन और रिपब्लिकन राष्ट्रपति जार्ज बुश मौजूद थे, जबकि पूर्व राष्ट्रपति 95 वर्षीय जिमी कार्टर ने संवेदना संदेश भेजा। कैंसर से पीड़ित तीन दशक तक जार्जिया का प्रतिनिधित्व करने वाले जान लेविस की मृत्यु गत 17 जुलाई को हुई थी। जान लेविस की शव यात्रा को उनके गृह स्थल अल्बामा के अलावा वाशिंगटन डीसी के बाद एटलांटा लाया गया था। बराक ओबामा ने अपने राष्ट्रपति कार्यकाल में जान लेविस को अमेरिका के सबसे बड़े नागरिक सम्मान 'मेडल ऑफ फ़्रीडम' से नवाज़ा था। इन नेताओं ने 80 वर्षीय जान लेविस के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि इस अश्वेत नेता ने नस्लीय भेद के ख़िलाफ़ ताउम्र लड़ाई लड़ी और नागरिक अधिकारों के लिए अहिंसा के मार्ग पर चलते हुए अन्याय के विरूद्ध आवाज़ उठाने में सबसे आगे रहे। वाशिंगटन मार्च के सर्वकालीन महान अश्वेत नेता मार्टिन लूथर किंग जूनियर के सहयोगी जान लेविस कभी महात्मा गांधी से व्यक्तिगत तौर पर तो नहीं मिले, लेकिन ये दोनों ही अश्वेत नेता न्याय के लिए अहिंसा के मार्ग पर चलने में हमेशा आगे रहे हैं। वर्जीनिया हाई स्कूल का नाम जान लेविस रख दिया गया है। बराक ओबामा ने अपने जोशिले संवेदना संदेश में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का नाम लिए बिना कड़े प्रहार किए। उन्होंने कहा कि कुछ लोग ऐसे समय में जब नागरिक अधिकारों और मताधिकारों में व्यवधान खड़े कर रहे हैं, ऐसे में जान लेविस जैसे एक मात्र ऐसे अश्वेत नेता को ह्रदय से स्मरण करना तथा उनके आदर्शों पर चलना ज़रूरी है। जार्ज बुश ने कहा कि लेविस ने नफ़रत और भय का मुक़ाबला स्नेह और प्रेम से किया। वह इन सिद्धांतो पर जीये और उन्होंने देश के उच्च आदर्शों के साथ कोई समझौता नहीं किया। इस मौक़े पर कांग्रेस में प्रतिनिधि सभा की डेमोक्रेट स्पीकर नैंसी पेलोसी के अलावा राजनैतिक पार्टियों के कई नेता, सिनेटर और सांसद मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in