अफगानिस्तान में बच्चों की जान ले रही भुखमरी

 अफगानिस्तान में बच्चों की जान ले रही भुखमरी
hunger-killing-children-in-afghanistan

काबुल, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे और अंतरिम सरकार के गठन के बाद से स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। प्रत्येक बीत रहे दिन के साथ, देश का मानवीय संकट और अधिक गंभीरता के साथ सामने आ रहा है क्योंकि भोजन और पानी की बुनियादी आवश्यकता के पहुंच की कमी ने कई लोगों को भुखमरी में डाल दिया है, जिससे कई छोटे बच्चों की मौत हो गई है, जबकि भुखमरी के चलते सैकड़ों का इलाज किया गया है। अफगानिस्तान के कई प्रभावित प्रांतों में से एक घोर में स्थानीय लोगों ने कहा, अफगानिस्तान में बच्चे भूख से मर रहे हैं। अंतर्राष्ट्रीय सहायता एजेंसियों ने चेतावनी दी है कि अगर इस मामले को आपात स्थिति और युद्धस्तर पर नहीं सुलझाया गया तो साल के अंत तक लाखों छोटे बच्चों को गंभीर और जानलेवा कुपोषण का सामना करना पड़ सकता है। घोर प्रांत में पिछले छह महीनों में कम से कम 17 बच्चों की कुपोषण से मौत हो चुकी है। स्थानीय लोगों का कहना है कि मृतकों की संख्या उन लोगों की है, जिन्होंने अस्पताल पहुंचाया और फिर उनकी मृत्यु हो गई। जमीन पर स्थिति कहीं अधिक खराब है, क्योंकि कई लोग अस्पताल नहीं पहुंच पाए हैं और अपनी जान गंवा चुके हैं। घोर प्रांत के जन स्वास्थ्य निदेशक मुल्ला मुहम्मद अहमदी ने कहा, केवल घोर प्रांत से लगभग 300 बच्चों का इलाज भुखमरी की वजह से किया गया है, जिनमें से 17 की मौत हो गई है। उन्होंने कहा, देश के मध्य भागों में सैकड़ों बच्चों को भुखमरी का खतरा है। घोर में स्थानीय लोगों का कहना है कि पानी और भोजन तक लगभग शून्य पहुंच के कारण उनकी हालत गंभीर है, जिससे स्थानीय लोगों, विशेषकर महिलाओं और बच्चों के बीच स्वास्थ्य को बड़ा खतरा है। घोर निवासी अमानुल्लाह ने कहा, मैं आपको बता सकता हूं कि हाल के दिनों में कई बच्चे भूख से मर चुके हैं। हमारे पास बच्चों को खिलाने के लिए कुछ खाना नहीं है। हमारे पास पानी नहीं है। हमारे पास अपने परिवारों के लिए काम करने और कमाने के लिए कोई काम नहीं है। अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र बाल एजेंसी (यूनिसेफ) द्वारा भी इसी तरह की आशंका व्यक्त की गई है, जिसके प्रवक्ता ने कहा कि बड़ी संख्या में बच्चे कुपोषण और भुखमरी के कारण कीमत चुका रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं घोर में मौतों की संख्या की पुष्टि नहीं कर सकता लेकिन पुष्टि कर सकता हूं कि बहुत सारे बच्चों ने भूख की वजह से अपनी जान गंवाई है। संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी है कि वर्ष के अंत तक, अफगानिस्तान में पांच वर्ष से कम आयु के दस लाख बच्चों को गंभीर गंभीर कुपोषण की वजह से उपचार की आवश्यकता होगी, जबकि अन्य 33 लाख तीव्र कुपोषण से पीड़ित होंगे। --आईएएनएस आरएचए/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.