हेफाजत के बड़े नेता हारुन इजहार की चटगांव में गिरफ्तारी

 हेफाजत के बड़े नेता हारुन इजहार की चटगांव में गिरफ्तारी
hefaz-elder-leader-harun-izhar-arrested-in-chittagong

ढाका, 29 अप्रैल (आईएएनएस)। आतंकी संगठन हेफाजत ए इस्लाम से जुड़ी समिति के पूर्व शिक्षा और सांस्कृतिक सचिव हारुन इजहार को रैपिड एक्शन बटालियन (आरएबी) ने आज चटगाँव के लालखान बाजार मदरसा से हिरासत में ले लिया। हारुन के निजी सहायक ने उनके हिरासत में लिए जाने की पुष्टि की है। हारुन इजहार ने आज 12 बजकर 45 मिनट पर अपने फेसबुक पेज पर अलविदा संदेश भी पोस्ट किया था। हारुन ने गैर मुस्लिमों के खिलाफ सांप्रदायिक संदेश फैलाने के लिए अपने एफबी पेज पर धर्मांतरित मुस्लिमों की कुरान पढ़ते हुए फोटो भी पोस्ट की। नवंबर 2009 में, हारुन को दो अन्य संदिग्धों के साथ ढाका में अमेरिकी दूतावास पर हमले की योजना बनाने के लिए गिरफ्तार किया गया था। अन्य दो, जिन्हें अमेरिका में गिरफ्तार किया गया था, ने हारुन के बारे में जानकारी प्रदान की थी। उन्होंने यह भी कहा कि वे डेनमार्क में एक अखबार के कार्यालय सहित विभिन्न देशों में विभिन्न स्थानों पर हमलों की योजना बना रहे थे। हारुन मुफ्ती इजहारुल का बेटा है, जिसे अफगानिस्तान में ओसामा बिन लादेन के अंगरक्षक द्वारा प्रशिक्षित किया गया था। मुफ्ती इजहार उस समय उग्रवादी गठबंधन इस्लामिया ओकाया जोते और बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) के प्रमुख थे। वहीं तब गिरफ्तार किए गए दो अन्य लोग पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा से जुड़े थे। 28 मार्च को हुई हिंसा और नरसंहार के सिलसिले में पाटिया, हाथझारी, चटगांव में हेफाजत नेताओं और कार्यकतार्ओं के खिलाफ दस मुकदमे दर्ज किए गए थे। हिंसा और नरसंहार के कई मामलों में हारुन इजहार की तलाश थी। इसमें लगभग 6,000 लोग आरोपी थे। अब तक लगभग 40 नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। --आईएएनएस एमएसबी/आरजेएस