संयुक्त राष्ट्र की पांच एजेंसियां 60 देशों के स्कूल-आधारित भोजन और स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाएंगी

 संयुक्त राष्ट्र की पांच एजेंसियां 60 देशों के स्कूल-आधारित भोजन और स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाएंगी
five-un-agencies-to-improve-school-based-food-and-health-services-in-60-countries

जिनेवा, 17 नवंबर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र की पांच एजेंसियों ने कोरोना महामारी के कारण स्कूल-आधारित भोजन और स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित 15 करोड़ से अधिक युवा छात्रों के पोषण में तेजी से सुधार करने के लिए एक कार्यक्रम के लिए समर्थन की घोषणा की। संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में मंगलवार को जारी एक संयुक्त घोषणा में, एजेंसियों ने स्कूल भोजन गठबंधन को 60 से अधिक देशों के समूह की सहायता करने के लिए प्रतिबद्ध किया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, एजेंसियों ने कहा कि गठबंधन का लक्ष्य हर जरूरतमंद बच्चे को 2030 तक स्कूल में पौष्टिक भोजन प्राप्त करने का अवसर देना है। गठबंधन स्मार्ट स्कूल भोजन कार्यक्रमों के लिए भी प्रतिबद्ध है। फिनलैंड के संयुक्त राष्ट्र के राजदूत जुक्का सलोवारा ने एक ब्रीफिंग में संवाददाताओं से कहा, स्कूल का भोजन एक खाने की थाली से काफी अलग होता है। यह उससे कहीं अधिक है। यह वास्तव में समुदायों को बदलने, विश्व स्तर पर शिक्षा और खाद्य प्रणालियों में सुधार करने का अवसर है। एजेंसियों ने कहा, गठबंधन स्कूली भोजन और अन्य स्वास्थ्य और पोषण कार्यक्रमों को बहाल करने के लिए काम करेगा जो कोरोना महामारी से पहले थे। एजेंसियों ने कहा कि यह महामारी से पहले कवर नहीं किए गए 7.3 करोड़ बच्चों तक पहुंचने और मानकों को स्थापित करने और उन्हें स्थानीय खाद्य उत्पादन से जोड़ने के लिए उनकी गुणवत्ता बढ़ाने की उम्मीद करता है। संयुक्त राष्ट्र में फ्रांसीसी मिशन में सतत विकास इकाई के प्रमुख ओलिवियर रिचर्ड ने कहा, कोरोना महामारी के प्रभाव से हमारे समाज की रिकवरी के लिए स्कूल का भोजन बहुत महत्वपूर्ण है। स्कूली भोजन बच्चों में पोषण, उनके स्वास्थ्य और उनके शैक्षिक प्रदर्शन में सुधार करते हैं। गठबंधन का समर्थन करने वाली संयुक्त राष्ट्र एजेंसियां खाद्य और कृषि संगठन, संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन, संयुक्त राष्ट्र बाल कोष, विश्व खाद्य कार्यक्रम और विश्व स्वास्थ्य संगठन हैं। गैर-सरकारी संगठनों, नागरिक समाज, फाउंडेशन और अन्य समूहों सहित 50 से अधिक भागीदारों ने भी कहा कि वे गठबंधन का समर्थन करेंगे। --आईएएनएस एसएस/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.