खाद्य सुरक्षा पर लगातार ध्यान दे रहा है चीन

 खाद्य सुरक्षा पर लगातार ध्यान दे रहा है चीन
china-is-constantly-focusing-on-food-security

बीजिंग, 7 मई (आईएएनएस)। चीन दुनिया का एक प्रमुख अनाज उत्पादक देश है। जिसे हम कृषि प्रधान देश भी कहते हैं। खाद्यान्न उत्पादन के मामले में नंबर एक होने के साथ-साथ चीन विश्व की सबसे अधिक आबादी वाला राष्ट्र भी है। ऐसे में चीन सरकार के समक्ष न केवल अपने नागरिकों को भरपेट भोजन मुहैया कराने की चुनौती है, बल्कि खाद्य पदार्थों की क्वालिटी भी उसे ध्यान देना होता है। जैसा कि हम जानते हैं कि आज खाद्य पदार्थों की सुरक्षा व गुणवत्ता समूचे विश्व के लिए चिंता का मुद्दा है। जाहिर है कि चीन भी इस बारे में चिंतित है और कदम भी उठा रहा है। कहने का मतलब है कि चीन खाद्य सुरक्षा पर लगातार जोर दे रहा है। इस बीच चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने कहा है कि चीन स्वस्थ स्थिर आर्थिक व सामाजिक विकास का समर्थन करता है। इसके साथ ही उन्होंने अनाज उत्पादन बढ़ाने और खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के संबंध में चीन की प्रतिबद्धता भी जताई है। राज्य परिषद की कार्यकारी बैठक में चीनी प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए आश्वासन से यह जाहिर होता है कि चीन खाद्यान्न उत्पादन बढ़ाने के साथ-साथ खाद्य सुरक्षा को भी बहुत महत्व देता है। कहा गया है कि चीन इसको लेकर अपनी क्षमता बढ़ाने पर ध्यान देगा। इससे पहले भी चीन खाद्य सुरक्षा को अपने कृषि कार्य में अहम स्थान पर रखता रहा है। पूर्व में जारी किए गए दिशा-निर्दशों से भी स्पष्ट होता है कि चीन कृषि संसाधनों के इस्तेमाल में अनाज उत्पादन को प्राथमिकता देता है। चीन की गंभीरता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वह सख्त कृषि सुरक्षा नीतियों को लागू करने के लिए पूरी कोशिश से जुटा है। वहीं कृषि योग्य भूमि के इस्तेमाल के लिए विशेष सुरक्षा उपाय और नियम लागू करने पर भी चीन ध्यान दे रहा है। इससे पहले भी चीनी अधिकारियों ने कृषि योग्य भूमि को अन्य प्रकार की कृषि भूमि, जैसे कि जंगलों और उद्यानों में परिवर्तित करने पर सख्त प्रतिबंध लगाने की आवश्यकता जताई थी। इसके साथ ही चीन में लगातार बढ़ रहे अनाज उत्पादन से देश की आत्मनिर्भर होने का भी संकेत मिलता है। क्योंकि एक अरब चालीस करोड़ की जनसंख्या को भरपेट भोजन मुहैया कराना कोई आसान काम नहीं है। लेकिन चीन ऐसा करने में पूरी तरह सफल होने के बाद अन्य देशों को खाद्य पदार्थों का निर्यात भी करता है। (लेखक : अनिल पांडेय,चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग ) --आईएएनएस एएनएम