afghan-citizens-gathered-after-the-torkham-border-was-opened-for-the-movement-of-people
afghan-citizens-gathered-after-the-torkham-border-was-opened-for-the-movement-of-people
दुनिया

लोगों की आवाजाही के लिए तोरखम बॉर्डर खुलने के बाद अफगान नागरिकों का उमड़ा हुजूम

news

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। तोरखम में पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर क्रॉसिंग, जहां से पिछले कुछ महीनों के दौरान केवल व्यापारिक गतिविधियों की अनुमति थी, वहां से अब लोगों का आवागमन भी हो सकेगा। जैसे ही यह खबर फैली, सीमा पर हजारों अफगान नागिरकों की भीड़ जमा हो गई। सीमा पार से पैदल आवाजाही फिर से शुरू होने की खबर जल्द ही पड़ोसी देश के अधिकांश हिस्सों में फैल गई और हजारों अफगानी तोरखम सीमा पार करने के लिए लाइन में लगे नजर आए। पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। सीमा पार करने वाले अफगानों की संख्या इतनी अधिक थी कि पाकिस्तानी अधिकारियों को सीमा पर भीड़ और दहशत को रोकने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा कर्मियों को तैनात करना पड़ा। रिपोर्ट में कहा गया है कि यह भी पता चला है कि अफगान तालिबान ने सीमा पर भीड़भाड़ से बचने के लिए बॉर्डर पार करने के इच्छुक अपने अशांत और बैचेन नागरिकों के लिए लाउडस्पीकर पर बार-बार घोषणाएं कीं और केवल उन लोगों को ही सबसे पहले पाकिस्तान की सीमा में दाखिल होने की अनुमति देने की बात कही, जिन्हें सबसे ज्यादा जरूरत है। हालांकि, इन घोषणाओं का नागरिकों पर कोई असर नहीं पड़ा, क्योंकि अफगान नागिरकों ने बड़ी बेताबी से पाकिस्तान के लिए ऑनलाइन वीजा प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत की थी। अफगानिस्तान के लगमन प्रांत के रहने वाले 28 वर्षीय बिलाल ने डॉन अखबार को बताया कि सीमा पार के पास रातों की नींद हराम करने के बाद शुक्रवार की सुबह उन्हें ऑनलाइन वीजा मिला। उन्होंने कहा कि महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों सहित लोगों की बड़ी संख्या अफगान सीमा पर इतनी अधिक थी कि अफगान और पाकिस्तानी दोनों अधिकारियों के लिए वीजा के लिए सभी के अनुरोध पर विचार करना सचमुच असंभव था। नंगरहार प्रांत के निवासी अब्दुल्ला ने भी कहा कि वह ऑनलाइन वीजा प्राप्त करके ही पाकिस्तान पहुंच पाए हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि अधिकांश अफगानों ने तोरखम सीमा के माध्यम से पैदल चलने वालों की आवाजाही को फिर से शुरू करने का स्वागत किया, लेकिन सीमा के दोनों ओर अधिकारियों को वेटिंग लॉट को साफ करने में हफ्तों और महीनों का समय लगेगा, क्योंकि अफगानों ने बड़ी संख्या में तोरखम पहुंचना शुरू कर दिया है। आम लोगों के लिए बॉर्डर फिर से खोलने के लिए बाद लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा है। पाकिस्तानी अधिकारियों ने भी सीमा पर भीड़ की पुष्टि की। --आईएएनएस एकेके/एएनएम