10th-sino-german-economic-and-technical-cooperation-forum-held
10th-sino-german-economic-and-technical-cooperation-forum-held
दुनिया

10वां चीन-जर्मनी आर्थिक व तकनीकी सहयोग मंच आयोजित

news

बीजिंग, 29 अप्रैल (आईएएनएस)। हाथ में हाथ, सहयोग और उभय जीत-विकास की नयी शक्ति की मजबूती थीम के साथ 10वां चीन-जर्मनी आर्थिक और तकनीकी सहयोग मंच 28 अप्रैल को पेइचिंग में आयोजित हुआ। चीनी और जर्मन सरकारों और लगभग सौ कंपनियों के प्रतिनिधियों ने ऑनलाइन और ऑफलाइन तरीके से मैक्रोइकॉनॉमिक्स, डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन और ग्रीन व लो-कार्बन समेत मुद्दों पर आदान-प्रदान किया, ताकि बातचीत के माध्यम से आम सहमति बनायी जा सके और सहयोग से जीत हासिल हो सके। चीनी राष्ट्रीय विकास और सुधार आयोग के उप निदेशक लिन न्येनश्यू ने मंच में कहा कि चीन-जर्मनी आर्थिक और तकनीकी सहयोग चीन-जर्मनी आर्थिक, व्यापारिक और तकनीकी सहयोग के लिए महत्वपूर्ण पुल बन गया है। वर्तमान में, अवसरों का लाभ उठाकर चुनौतियों का सामना करने के लिए विभिन्न देशों के बीच संपर्क व समन्वय को मजबूत करने और संयुक्त रूप से बहुपक्षवाद की रक्षा करने की आवश्यकता है। उन्होंने चीन और जर्मनी के अर्थतंत्र व व्यवसाय के जगतों से सहयोग करने का आग्रह किया। उधर,चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग और जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने 28 अप्रैल को दोपहर बाद चीन-जर्मनी सरकारों के छठे दौर के परामर्श की संयुक्त अध्यक्षता करने के दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंस के रूप में 10वें चीन-जर्मनी आर्थिक और तकनीकी सहयोग मंच के तहत दोनों देशों के आर्थिक क्षेत्र के प्रतिनिधियों की बैठक में भाग लिया और उनसे बातचीत की। ली खछ्यांग ने कहा कि चीन-जर्मनी आर्थिक और व्यापारिक सहयोग निरंतर गहरा हो रहा है। पिछले साल महामारी के प्रभाव के बावजूद दोनों देशों के व्यापार की मात्रा भी बढ़ गयी, जिससे चीन-जर्मनी सहयोग का उच्चस्तर और विशाल निहित क्षमता दर्शाई गयी। मौजूदा स्थिति में उन्हें आशा है कि दोनों पक्ष महामारी के खिलाफ लड़ाई में सहयोग मजबूत करेंगे और महामारी की सख्त रोकथाम के आधार पर लोगों के आदान-प्रदान को आगे बढ़ाएंगे। मर्केल ने कहा कि जर्मनी और चीन विनिर्माण समेत कई क्षेत्रों में घनिष्ठ सहयोग करते हैं। आशा है कि उनमें नई प्रगति हासिल हो सकेगी। जर्मनी चीन के साथ आपसी बाजार पहुंच का विस्तार करने और यूरोप-चीन निवेश समझौते के शीघ्र प्रभावी होने को बढ़ाने को तैयार है। जर्मनी में निवेश करने के लिए चीनी कंपनियों का स्वागत है। आशा है कि दोनों पक्ष एकजुट होकर दोनों देशों के बीच आर्थिक और तकनीकी सहयोग को एक नए स्तर पर पहुंचाएंगे। (साभार-चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग) --आईएएनएस आरजेएस