चीन में सत्ता के खिलाफ बोलने पर 18 साल की सजा
चीन में सत्ता के खिलाफ बोलने पर 18 साल की सजा
दुनिया

चीन में सत्ता के खिलाफ बोलने पर 18 साल की सजा

news

बीजिंग, 22 सितंबर (हि.स.)। चीन में जिस रियल स्टेट टायकून ने शी जिनपिंग के कोविड-19 को सही ढंग से हैंडल ना करने पर फटकार लगाई थी उसको भ्रष्टाचार के आरोप में 18 साल की जेल की सजा सुनाई गई है। सीएनएन के अनुसार रेन जिकियांग को बीजिंग के कोर्ट ने भ्रष्टाचार सहित कई अन्य मामलों में दोषी करार दिया है। उन पर आरोप है कि उन्होंने पब्लिक फंड का गलत इस्तेमाल किया तथा घूस लिया था। रेन एक रिटायर्ड बिजनेस टाइकून है जिन्होंने कथित रूप से शी जिनपिंग के कोविड-19 को हैंडल करने में असमर्थता पर उनको फटकारते हुए एक चिट्ठी लिखी थी और उसके बाद यानी मार्च से वह गायब हो गए थे। 18 साल की जेल के साथ ही उन पर 4.2 मिलियन युवान($6, 20,000) का जुर्माना लगाया है। बीजिंग के कोर्ट ने कहा कि रेन ने अपने सारे जुर्म कुबूल लिए हैं तथा वह कोर्ट की सजा को मानने के लिए तैयार है। लेख में आगे रेन ने कहा कि कम्युनिस्ट पार्टी सत्ता में बने रहने के लिए अपने हित को देश के हित के ऊपर रखती है। कानूनी पर्यवेक्षकों के अनुसार चीन के कोर्ट का कनविक्शन रेट 99 प्रतिशत है और भ्रष्टाचार के आरोप ज्यादातर कम्युनिस्ट पार्टी के खिलाफ आवाज उठाने वालों के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं। हिंदुस्थान समाचार/मुरारी कुमार-hindusthansamachar.in