होली-भारतीय-संस्कृति-की-धरोहर-रामबालक-दास |Heritage Holi Indian Culture Rambalak Hindi News होली भारतीय संस्कृति धरोहर रामबालक दास Hindi Latest News 


बड़ी खबरें

होली भारतीय संस्कृति की धरोहर  : रामबालक दास

होली भारतीय संस्कृति की धरोहर : रामबालक दास

होली त्योहार ही नहीं अपितु भारतीय संस्कृति की धरोहर है। ये बातें रविवार को पूरे भुलई गांव स्थित हनुमानगढी मंदिर प्रांगण में होली मिलन समारोह के बतौर मुख्य अतिथि महामंडलेश्वर बाबा रामबालक दास ने कही।समारोह की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन के बाद भगतसिंह राजगुरू और सुखदेव की शहाद को याद करते हुए उनके चित्र पर माल्यार्पण के बाद किया गया। भोजपुरी लोकगायक विकास मिश्रा ने भक्ति गीत रंग ले के दौड़े हनुमान हो रामजी उठ के भागे प्रस्तुत कर माहौल को होलीमय कर दिया। इसके बाद सीमा पर तैनात जवान के घर की होली को याद करते हुए कइसे अकेले बिताइब फगुनवा नइखे सखिया सहेली हो उड़ के जहजिया से आजा
www.livehindustan.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

www.livehindustan.com से अधिक समाचार