यहां-दीपक-की-लौ-के-रूप-में-आकर-स्थापित-हुईं-मां-चामुंडा |Flame Lamp Installed Mother Chamunda Jodhpur Hindi News लौ रूप आकर मां चामुंडा Hindi Latest News  

बड़ी खबरें

यहां दीपक की लौ के रूप में आकर स्थापित हुईं मां चामुंडा

यहां दीपक की लौ के रूप में आकर स्थापित हुईं मां चामुंडा

शक्ति रूपिणी मां चामुंडा दीपक की लौ के रूप में आकर जोधपुर के एक पहाड़ पर स्थापित हुई और उसके बाद रियासत के महाराजा ने यहां मंदिर बनवाया। कहते हैं राव चूंडा मां चामुंडा के भक्त थे और वो मां के दर्शन किए बगैर भोजन नहीं लेते थे। इस तरह मां की भक्ति पीढ़ी दर पीढ़ी चली और मंडोर रियासत के तत्कालीन महाराजा राव जोधा ने मेहरानगढ़ की स्थापना की। जानकर बताते हैं कि ये बात दन्तकथा मानी जाती है लेकिन सच है कि राव जोधा भी मां के भक्त थे और मां को सच्चे मन से याद करते थे। जनश्रुति में कहा जाता है कि राव जोधा भी अपने पूर्वजों की तरह मां के दर्शन करने के बाद ही भोजन ग्रहण करते थे।
www.khaskhabar.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2018. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.