क्या पानी के फव्वारे बैंगलोर को सांस लेने में मदद कर सकते हैं?
क्या पानी के फव्वारे बैंगलोर को सांस लेने में मदद कर सकते हैं?
एन्वायरमेंट

क्या पानी के फव्वारे बैंगलोर को सांस लेने में मदद कर सकते हैं?

news

बैंगलोर के नागरिक अब 27 करोड़ की लागत वाले 42 ट्रैफिक चौराहों पर पानी के फव्वारे देखने वाले हैं। पानी कणों को अवशोषित कर सकता है और तापमान को कम कर सकता है। लेकिन शहर में प्रदूषण का मूल कारण है - सड़क की धूल और परिवहन। पानी के लगातार छिड़काव से हवा में नमी का स्तर बढ़ेगा और धूल इससे अवशोषित होगी। यह परियोजना हवा को साफ रखेगी और नागरिकों को सांस लेने में भी दिक्कत नहीं होगी।