असम के लिए राहत भरी खबर, भूटान के सामद्रूप झंगखार प्लांट से मिलेगी ऑक्सीजन

असम के लिए राहत भरी खबर, भूटान के सामद्रूप झंगखार प्लांट से मिलेगी ऑक्सीजन
relief-news-for-assam-oxygen-will-be-available-from-bhutan39s-samdrup-jangkhar-plant

बाक्सा, 26 अप्रैल (हि.स.)। ऑक्सीजन की कमी की खबर से देश और असम के लोग भी चिंतित हैं। क्योंकि कोरोना संक्रमण पूरे भारत में जानलेवा बन गया है। इस बीच रविवार को देशवासियों के लिए खुशी का दिन सामने आया है। असम सरकार के स्वास्थ्य, वित्त और शिक्षा मंत्री डॉ हिमंत विश्वशर्मा के निर्देश के बाद राज्य के स्वास्थ्य राज्य मंत्री पीयूष हजारिका और राज्यसभा सांसद बिश्वजीत दैमारी रविवार को पूर्वी भूटान के सामद्रुप झांगखार पहुंचे। दोनों नेताओं ने पिछले साल भूटान के सामद्रुप झांगखार में कोविड महामारी के दौरान निर्माण कार्य शुरू किये गये ऑक्सीजन प्लांट का दौरा किया और काम की प्रगति का जायजा लिया। पिछले साल लॉकडाउन के कारण इस ऑक्सीजन प्लांट के निर्माण का ठप हो गया था। प्लांट का दौरा कर मंत्री पीयूष हजारिका और राज्यसभा सांसद बिश्वजीत दैमारी ने बाक्सा जिला के तमुलपुर पहुंचकर मीडिया से बातचीत में बताया कि कि ऑक्सीजन प्लांट को पूरा होने में करीब 40 दिन और लगेंगे। ऑक्सीजन प्लांट पूरा होने पर प्रतिदिन 50 मीट्रिक टन ऑक्सीजन पैदा होगा। इसके बाद हमारे इलाके में इस प्लांट से मिलने वाली ऑक्सीजन से ऑक्सीजन की कमी काफी हद तक दूर हो जाएगी। ऐसे समय में जब इस महामारी के बड़े पैमाने पर संक्रमण की खबर ने देश में ऑक्सीजन की कमी की खबर से लोगों को चिंतित कर दिया है, ऐसी खबरें स्वाभाविक रूप से राज्य की जनता को संतुष्टि देने वाली है। कोरोना की दूसरी लहर के बीच लोगों को बेहद सावधान रहने का आग्रह करते हुए मंत्री ने कहा कि वर्तमान कोरोना महामारी के कीटाणु गांवों में भी प्रवेश करने लगे हैं। इसलिए सभी को नियम-कायदों का पालन करते हुए अधिक जागरूकता के माध्यम से इस वक्त को गुजरना होगा। हालांकि मंत्री ने कहा कि वर्तमान में जनता कुछ सतर्क है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग टीकाकरण के लिए आवश्यक व्यवस्था उपलब्ध करा रही है। उन्होंने लोगों से धैर्य के साथ कोरोना रोधी टीकाकरण करवाने का भी आग्रह किया। मंत्री पीयूष हजारिका और राज्यसभा सांसद ने सभी नागरिकों से आग्रह किया कि वे खुद को इस बीमारी से दूर रखें और राज्य सरकार द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करते हुए अपने परिवार और समाज को बचाएं। हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद