धमतरी : नहीं थम रहा हाथियों का आतंक, हाथियों से खराब हो रही फसल

धमतरी : नहीं थम रहा हाथियों का आतंक, हाथियों से खराब हो रही फसल
dhamtari-the-terror-of-elephants-is-not-stopping-the-crop-is-getting-spoiled-by-elephants

धमतरी, 29 अप्रैल ( हि. स.)। धमतरी जिला से लगे डूबान क्षेत्र से सीमावर्ती ग्राम तांसी तहसील चारामा जिला कांकेर में लगातार हाथियों ने उत्पात मचा रखा है। जंगली हाथियों के आतंक से एक बार फिर जंगल क्षेत्र के लोग दहशत में आ गए हैं। लोग अपने तरीके से हाथी को भगाने कोशिश कर रहे हैं, लेकिन करीब एक सप्ताह से जंगली हाथियों के आसपास क्षेत्र में घूम-घूमकर किसानों द्वारा लगाए रबी फसलों को बर्बाद कर रहे हैं। रबी फसल लगे हुए जंगल किनारे हाथियों ने ठौर बना लिया है। शाम होते ही खेतों में घुसकर खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। किसानों में काफी संशय बना हुआ है। ऐन समय में फसलों को नुकसान पहुंचाया जाना गंभीर रूप से निराशाजनक है। किसानों को नुकसान की चिंता सता रही है। किसानों ने शासन-प्रशासन से मुआवजा की मांग की है। हाथियों का दल लगातार क्षेत्र में विचरण कर रहा है। वनपाल के कर्मचारी ललिता दुग्गा ने जानकारी दी कि बीते दिनों से क्षेत्र के आसपास गांव में हाथियों का विचरण करते नजर आ रहा है, जो भी नुकसान हो रहा है उसकी जांच करके पंचनामा तैयार किया जाएगा। किसानों को मुआवजा दिलाने का प्रयास जारी है। क्षेत्र में आस-पास के गांव में हाथियों के उत्पात को देखते हुए गांव में मुनादी करा दी गई है। सावधानी बरतने कहा गया है। ग्राम तांसी- जुनवानी के किसान चंद्रकुमार कोसरिया, रामाधीन सिन्हा, सनत नागराज, सेवा राम ने बताया जैसे ही संध्या का समय होता है हाथी खेत में घुस करके खड़ी फसलों और बिछे हुए पाइपलाइन को नुकसान पहुंचा रहे हैं। किसानों ने अपनी पीड़ा सुनाते हुए शासन प्रशासन से मुआवजा दिलाने की मांग की है। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन