धमतरी:मनरेगा मजदूरों व पंचायतों का चार माह से लटका 72 करोड़ का भुगतान

धमतरी:मनरेगा मजदूरों व पंचायतों का चार माह से लटका 72 करोड़ का भुगतान
dhamtari-mgnrega-workers-and-panchayats-hanged-for-four-months-paying-72-crores

धमतरी, 19 मार्च ( हि. स.)।मनरेगा योजना में काम करने के चार माह बाद भी जिले के सवा लाख से अधिक मजदूरों और विभिन्न निर्माण कार्य करने वाले पंचायतों का करीब 72 करोड़ का भुगतान अटका हुआ है। लंबे समय से राशि का भुगतान नहीं होने से मजदूर व सरपंच लगातार जनपद पंचायत और जिला पंचायतों का चक्कर लगा रहे हैं। मेला व त्यौहारी सीजन में आर्थिक तंगी से जूझ रहे मजदूरों की परेशानी बढ़ गई है। सामने होली पर्व है, ऐसे में मजदूरों ने शीघ्र ही राशि दिलाने शासन से गुहार लगाई है। दिसंबर 2020 से मनरेगा योजना में काम करने वाले मजदूरों को अब तक भुगतान नहीं हुआ है। धमतरी, कुरूद, मगरलोड और नगरी के करीब सवा लाख से अधिक मजदूरों को मजदूरी भुगतान अटका हुआ है। काम करने के बाद भी मजदूरी भुगतान समय पर नहीं मिलने से मजदूरों में आक्रोश है और वे आर्थिक तंगी से जुझ रहे हैं। जिला पंचायत कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार जिले में करीब 63 करोड़ का मजदूरी भुगतान है। वहीं साढ़े नौ करोड़ रुपये का मटेरियल भुगतान नवंबर माह से अटका हुआ है। मजदूरों का कहना है कि मेला, मड़ई सीजन में भुगतान नहीं हुआ, लेकिन होली पर्व से पहले मजदूरों ने मजदूरी भुगतान करने की मांग की है। ताकि वे होली का पर्व ठीक से मना सके। यह भुगतान तालाब गहरीकरण, तालाब निर्माण, डबरी निर्माण, कुआ निर्माण आदि कार्याें का है। 19 मार्च को जिले के 357 ग्राम पंचायतों में मनरेगा कार्य जारी है, जहां 57773 मनरेगा मजदूरों को काम मिल रहा है। जिले भर में मनरेगा के कुल 1263 काम जारी है। अपै्रल 2020 से अब तक जिले के एक लाख 40 हजार मनरेगा परिवारों को काम मिल चुका है। जबकि जिलेभर के दो लाख 83056 मजदूर मनरेगा में काम कर चुके हैं। इस साल मनरेगा योजना के लिए 246 करोड़ 26 लाख 22000 रुपये की कार्याें के लिए स्वीकृति हुआ था। इस राशि से 13025 कार्य मनरेगा के तहत किया जा रहा है। अब तक 174 करोड़ का भुगतान किया जा चुका है। इस संबंध में मनरेगा शाखा जिला पंचायत के एपीओ धरम सिंह ने बताया कि दिसंबर माह से मजदूरी भुगतान अटका है। भुगतान के लिए एफटीओ जारी किया जा चुका है। शासन के खाते में राशि आते ही मनरेगा मजदूरों के खाता में मजदूरी भुगतान जमा हो जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन