धमतरी : वन ग्राम संघर्ष समिति के सदस्य दुर्व्‍यवहार से आहत, शिकायत लेकर पहुंचे कलेक्टोरेट

धमतरी : वन ग्राम संघर्ष समिति के सदस्य दुर्व्‍यवहार से आहत, शिकायत लेकर पहुंचे कलेक्टोरेट
dhamtari-member-of-one-village-sangharsh-samiti-hurt-by-abuse-collectorate-reached-with-complaint

धमतरी, 24 मार्च ( हि. स.)। वन ग्राम संघर्ष समिति के सदस्यों ने बताया कि संघ द्वारा अपनी विभिन्न मांगों को लेकर तहसील मुख्यालय नगरी में बुधवार को एक दिवसीय धरना प्रदर्शन एवं राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व नगरी पहुंचे थे। शाम चार बजे धरना स्थल रावणभाठा से रैली अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय के लिए प्रस्थान किया गया। कार्यालय कैम्पस के मेन गेट के पास तहसीलदार ज्ञापन लेने पहुंचे। उसी समय गाड़ी से अनुविभागीय अधिकारी आए और उतरते ही तहसीलदार से ज्ञापन छीन लिया और भड़क गए। कहा कि कीड़े/ मकोड़े को कहां घुसा दिए। धरना स्थल पर जाकर ज्ञापन लेना था, और कहा तीन आदमी अंदर भेजो और अंदर चले गए। चर्चा के दौरान महिला प्रतिनिधियों से अभद्र व्यवहार किया गया। उन्होंने कहा कि आदिवासी लोग कुछ भी नहीं समझते और गुस्सा हो गए। उन्होंने कहा कि इन सबको बाहर निकालो। प्रतिनिधि मंडल के सदस्य इस व्यवहार से आहत हुए हैं। वन ग्राम संघर्ष समिति के संयोजक मायाराम नागवंशी, अध्यक्ष जगन्नाथ मंडावी, उपाध्यक्ष महेंद्र नेताम, बुधराम साक्षी, सचिव गोवर्धन मंडावी, कोषाध्यक्ष रोहित दीवान, सह सचिव देवगन कुंजाम, रवि नेताम, बीरबल पद्माकर, सुरेंद्र ध्रुव, अशोक सिंह मंडावी, अमर सिंह नेताम ने इस व्यवहार को लेकर कड़ी आपत्ति जताई है। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन

अन्य खबरें

No stories found.