धमतरी : हरी मिर्च व लेमनग्रास की खेती कर हाथियों को भगाएंगे किसान

धमतरी : हरी मिर्च व लेमनग्रास की खेती कर हाथियों को भगाएंगे किसान
dhamtari-farmers-will-drive-away-elephants-by-cultivating-green-chillies-and-lemongrass

धमतरी, 16 जून ( हि. स.)। हरी मिर्च व लेमन ग्रास की गंध से हाथियों को एलर्जी है। दोनों की गंध से हाथी दूर भागता है। अब वन विभाग जिले के 50 गांवों को हाथियों के आतंक से मुक्ति दिलाने हरी मिर्च व लेमन ग्रास का उपयोग करना शुरू कर दिया है। हाथियों के आने से पहले प्रभावित क्षेत्र के किसानों को उनके खेतों के मेड़ों पर इसकी खेती करने प्रेरित कर रहे हैं। दूसरी तरफ मिर्च और लेमनग्रास को बेचकर किसान मूल फसल के अलावा अतिरिक्त आमदनी भी कर सकेंगे। पिछले एक साल में 40 से अधिक जंगली हाथियों का झुंड धमतरी पहुंचकर कई किसान, आम लोग व सरकारी वस्तुओं को तोड़-फोड़कर लाखों का नुकसान पहुंचाया। हाथियों के इस आतंक से आम लोगों के साथ वन अमला भी त्रस्त है। इससे निबटने अब वन विभाग वैकल्पिक तरीका निकाल लिया है, जो हाथियों को भगाने एकदम नया तरकीब है। राजा हरी मिर्च व लेमन ग्रास से हाथियों को एलर्जी है। इसके गंध से हाथियों का झुंड भाग जाता है। हाल ही में जब 18 हाथियों का झुंड धमतरी से लगे कसावाही के जंगल में पहुंचे थे, तो हाथियों को धान खरीदी केन्द्र तक आने से रोकने इसका सफल प्रयोग भी किया गया। राजा हरी मिर्च की गंध से हाथी नहीं आए। वहीं धमतरी के डुबान व नगरी ब्लाॅक के सघन गांवों तक हाथियों को आने से रोकने वन विभाग बाजार से बड़ी मात्रा में राजा हरी मिर्च खरीदकर ग्रामीण क्षेत्रों में फेंके थे, इसलिए वे नहीं आए। बालोद में कर चुकी है सफल प्रयोग पिछले कुछ सालों से हाथी प्रभावित क्षेत्रों में ड्यूटी करने वाली धमतरी डीएफओ संतोविशा समाजदार का कहना है कि राजा हरी मिर्च व लेमनग्रास का सफल प्रयोग बालोद में कर चुकी है। वहां के किसान व लोगों को हाथियों से सुरक्षित रखे थे। अब धमतरी में भी इसका प्रयोग कर रहे हैं, ताकि जिले के 50 से अधिक हाथी प्रभावित गांव सुरक्षित हो सके। उन्होंने बताया कि यह इंटरनेशनल प्रयोग है। हाथी प्रभावित केरल में हरी मिर्च के साथ इसका स्प्रे हाथियों को भगाने के लिए किया जाता है। वहीं पश्चिम बंगाल में हाथियों को भगाने के लिए वहां के किसानों के खेतों के मेड़ों पर लेमन ग्रास लगे हैं। धमतरी के किसानों को भी खेतों के मेड़ों पर बीच-बीच में राजा हरी मिर्च व लेमनग्रास की खेती के लिए प्रेरित कर रहे हैं, जो हाथी प्रभावित गांव है। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन

अन्य खबरें

No stories found.