धमतरी:66 पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों कोरोना संक्रमित

धमतरी:66 पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों कोरोना संक्रमित
dhamtari-66-police-officers-employees-corona-infected

36 होम आइसोलेशन पर, दो अस्पताल में करा रहे उपचार धमतरी, 4 मई ( हि. स.)।आमजनों के साथ अब खाकी वर्दी वाले पुलिस अधिकारी- कर्मचारी भी तेजी से कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। जिले में अब तक 66 पुलिस अधिकारी कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं, जिसमें थानेदार से लेकर आरक्षक शामिल हैं। वहीं कोरोना से संक्रमित एक पुलिस अधिकारी की मौत हो चुकी है। कोरोना संक्रमण से बचाव व सुरक्षा के लिए ड्यूटी पर लगे जिले के 66 पुलिस अधिकारी व जवान इन दिनों कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। जिसमें से 30 जंग जीत चुके हैं और 36 होम आइसोलेशन पर रहकर कोरोना से लड़ रहे हैं। जबकि दो जवान अस्पताल में उपचार करा रहे हैं। वहीं कोरोना से संक्रमित एक एएसआई पिछले दिनों कोरोना से जंग हार गए। जबकि पिछले साल 2020 में 87 पुलिस अधिकारी व जवान कोरोना से संक्रमित हुए थे, जिसमें सभी ने कोरोना की जंग जीती थी। एएसपी मनीषा ठाकुर ने बताया कि जिले में कुल रजिस्टर्ड अधिकारियों की संख्या 896 है। जिसमें प्रथम वैक्सीनेटेड कुल अधिकारियों की संख्या 861 है। कोरोना टीका के प्रथम डोज लगाने अभी भी 35 अधिकारी व जवान शेष है। दोनों डोज लगाने वाले 617 अधिकारी कर्मचारी है। दूसरा डोज लगाने 279 शेष है। मिल रहा सम्मान, सुरक्षा नहीं-जिले में कोरोना से लोगों को बचाने पुलिस विभाग के सैकड़ों पुलिस अधिकारी व जवान ड्यूटी पर तैनात हैं। शासन से इन्हें कोरोना वारियर्स का दर्जा प्राप्त है, जिससे उन्हें हर जगह सम्मान तो मिलता है, लेकिन किसी तरह उनके परिवार के लिए बीमा का प्रावधान सरकार ने नहीं किया है। ऐसे में वे स्वयं को असुरक्षित मान रहे। जबकि स्वास्थ्य विभाग के कोरोना वारियर्स के लिए 50 लाख का बीमा की घोषणा है। कुछ पुलिस अधिकारी व जवानों का कहना है कि धमतरी जिले में कोरोना से हर रोज मौत का आंकड़ा बढ़ रहा है। अब तक 404 लोगों की मौत कोरोना से हो चुकी है। ऐसे में पुलिस अधिकारी व जवान जान को हथेली में लेकर लोगों के भीड़ के बीच ड्यूटी करने मजबूर हैं। राज्य सरकार इनके लिए किसी तरह के बीमा की घोषणा नहीं की है, ऐसे में वे स्वयं और अपने परिवार को असुरक्षित मान रहे हैं। पुलिस अधिकारी व जवानों ने दबी जुबान में शासन से 50 लाख की बीमा करने की मांग कर रहे हैं।जरूरी है सुरक्षा कवच-पुलिस, नगर निगम के कर्मचारी, डोर टू डोर सर्वे करने वाले लोग व कोरोना ड्यूटी करने वालों के लिए सुरक्षा कवच जरूरी है। पुलिस अधिकारी व जवानों के लिए 50 लाख के बीमा की घोषणा सरकार ने नहीं की है-मनीषा ठाकुर, एएसपी धमतरी हिन्दुस्थान समाचार / रोशन