धमतरी- कृषि उपकरणों की नहीं हो पा रही मरम्मत, लाकडाउन के चलते हैं बंद है दुकान, किसान परेशान

धमतरी- कृषि उपकरणों की नहीं हो पा रही मरम्मत, लाकडाउन के चलते हैं बंद है दुकान, किसान परेशान
dhamtari---repair-of-agricultural-equipment-is-not-being-done-shops-are-closed-due-to-lockdown-farmers-are-upset

धमतरी, 16 अप्रैल ( हि. स.)। अंचल में तेजी के साथ रबी फसल तैयार हो रही है। धान के तैयार होने के बाद कटाई-मिंजाई के लिए थ्रेशर, हार्वेस्टर जैसे मशीनों की आवश्यकता पड़ती है। लाकडाउन के कारण दुकानें बंद होने के कारण इन मशीनों की मरम्मत नहीं हो पा रही। इससे किसानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। किसानों की मांग है कि खेती किसानी के कार्य को देखते हुए इसमें लाकडाउन की अवधि में रियायत दी जाए। ग्राम देमार स्थित ओम इंजीनियरिंग के संचालक संतोष कुमार सिन्हा ने बताया कि कोरोनावायरस संक्रमण के कारण जिला प्रशासन द्वारा लगाए गए लाकडाउन के कारण कृषि कार्यों पर भी रोक लग गई है। लगभग पखवाड़े भर से दुकानों के सामने थ्रेशर, हार्वेस्टर मशीने रखी हुई है। अचानक लाकडाउन लगा देने से इन मशीनों की मरम्मत नहीं हो पाई है। थ्रेशर मशीन की मरम्मत नहीं हो पाने के कारण किसान अपने मशीनों को घर नहीं ले जा पा रहे हैं। इसके साथ ही धान की मिंजाई का कार्य भी रुक गया है। अधिकांश किसानों ने अपनी फसल को खेत में खलिहान बना कर रख लिया है। लाकडाउन खत्म होने के बाद मशीन की मरम्मत हो पाएगी, तभी धान की मिंजाई का कार्य भी हो पाएगा। उनका कहना है कि किसानी कार्य से संबंधित कार्य में लाकडाउन में छूट दी जाए, ताकि किसानी कार्य पर रोक न लग सके। शासन के कड़े नियम के कारण यह कार्य प्रभावित हो रहा है। इसी तरह अन्य गांवों व शहरों में स्थित रिपेयरिंग सेंटरों का हाल है। दुकानदार चाहकर भी मशीनों की मरम्मत नहीं करा कर पा रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन