Demand to file FIR against contractor Sanjay Aggarwal and Nigam EE
Demand to file FIR against contractor Sanjay Aggarwal and Nigam EE
news

ठेकेदार संजय अग्रवाल और निगम ईई पर एफआईआर दर्ज करने की मांग

news

रायगढ़, 14 जनवरी (हि.स.)। नगरनिगम के एक ठेकेदार को 3 लाख 80 हजार रुपये का फर्जी बिलिंग कर लाभ पहुंचाने के मामले में अब राजनीति गरमा गई है। एमआईसी सदस्य और पीडब्ल्यूडी प्रभारी विकास ठेठवार ने गुरुवार को कलेक्टर को एक ज्ञापन सौंपकर फर्जी बिलिंग करने वाले ठेकेदार और इंजीनियर पर एफआइआर दर्ज करने की मांग की है। विकास ठेठवार ने अपने ज्ञापन में कहा कि वार्ड क्रमांक 41 में दो स्थानों पर पचरी निर्माण हेतु कार्य आदेश ठेकेदार संजय अग्रवाल को दिया गया था। उक्त स्थल पर निर्माण किए बगैर ही ठेकेदार संजय अग्रवाल को दो स्थानों के निर्माण हेतु लगभग तीन लाख 80 हजार का भुगतान कर दिया गया है। इस संबंध में पार्षद प्रतिनिधि ने शिकायत किया था कि उक्त स्थल पर पचरी निर्माण का कार्य हुआ ही नहीं है, जिसके फलस्वरूप कमिश्नर ने जांच कमेटी द्वारा उक्त क्षेत्र में स्थल निरीक्षण और वार्ड वासियों के समक्ष पंचनामा में पाया कि उक्त कार्य पुराना है वहां किसी प्रकार का नया निर्माण हुआ ही नहीं है, जो कि गंभीर अपराध की श्रेणी में आता है। ठेठवार ने पत्र में लिखा कि नगर निगम में कार्यपालन अभियंता अजीत तिग्गा के चहेते ठेकेदार संजय अग्रवाल द्वारा कई ऐसे कार्यों को मिलीभगत कर नियम व शर्तों के विरुद्ध कार्य कर निगम को क्षति पहुंचाने का कार्य अनवरत जारी है। ऐसे में ठेठवार ने उपरोक्त कार्य किए बगैर भुगतान करना शासन की राशि का दुरुपयोग करना बताया है। इस अनियमितता के विरुद्ध दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के साथ ही ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने हेतु कलेक्टर से निर्देशित करने की मांग की है। ताकि भविष्य में इस प्रकार की अधिकारी और ठेकेदार सांठगांठ से इस तरह के कृत्य को अंजाम देने की हिमाकत न कर सके। यहां बता दें कि ठेकेदार संजय अग्रवाल और निगम के ईई के विरुद्ध सीधे ठौर पर एफआईआर दर्ज करने की मांग से हड़कम्प मच गया है। हिन्दुस्थान समाचार /रघुवीर प्रधान-hindusthansamachar.in