दिल्ली हाईकोर्ट ने कजाकिस्तान में फंसे छात्रों पर विदेश मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी
दिल्ली हाईकोर्ट ने कजाकिस्तान में फंसे छात्रों पर विदेश मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी
news

दिल्ली हाईकोर्ट ने कजाकिस्तान में फंसे छात्रों पर विदेश मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी

news

दिल्ली हाईकोर्ट ने कजाकिस्तान में फंसे छात्रों पर विदेश मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी नई दिल्ली, 25 मार्च (हि.स.)। दिल्ली हाईकोर्ट ने विदेश मंत्रालय से पिछले दो-तीन दिनों से कज़ाकिस्तान के अल्माटी में हवाई अड्डे पर फंसे भारतीय छात्रों के भोजन, पानी, परिवहन और चिकित्सा सहायता के बिना फंसे रहने पर रिपोर्ट मांगने के साथ ही उन्हें बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए हैंं। जस्टिस सिद्धार्थ मृदुल और जस्टिस तलवंत सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मामले की सुनवाई करने के बाद ये आदेश जारी किया। कोर्ट ने विदेश मंत्रालय को निर्देश दिया है कि अल्माटी में हवाई अड्डे पर फंसे भारतीय छात्रों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि आप इन छात्रों को कागजी कार्रवाईयों में क्यों उलझा रहे हैं। कोर्ट ने विदेश मंत्रालय को निर्देश दिया कि आप सभी छात्रों को दवाईयां, खाना, परिवहन और रहने की व्यवस्था और सुरक्षा मुहैया कराएं। दरअसल हाईकोर्ट को ये सूचित किया गया कि कजाकिस्तान के सिमी मेडिकल यूनिवर्सिटी समेत दूसरे संस्थानों में उच्च शिक्षा के लिए दाखिला लेने वाले भारतीय छात्र अल्माटी हवाई अड्डे पर बिना भोजन, पानी और बुनियादी सुविधाओं के फंसे हुए हैं। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/सुनीत-hindusthansamachar.in