(अपडेट) पत्नी ने अपने दो भाइयों के साथ मिलकर रची पति के हत्या की साजिश

(अपडेट) पत्नी ने अपने दो भाइयों के साथ मिलकर रची पति के हत्या की साजिश
update-wife-along-with-her-two-brothers-hatched-conspiracy-to-murder-husband

गुवाहाटी, 27 अप्रैल (हि.स.)। गुवाहाटी के ब्रह्मपुत्र नद पर बनाए गए नए सराईघाट पुल से नद में एक शव को फेंके जाने की कोशिश किए जाने के मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके दो साला को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय रेलवे विभाग के कर्मचारी संतोष प्रसाद की हत्या उसकी पत्नी गीता गिरी प्रसाद कश्यप, उसका साला मोहन गिरी, सूरज गिरी व अन्य दो साथियों के साथ मिलकर 25 मई की रात 1.30 बजे के आसपास बड़ी बेरहमी गला रेतकर कर दिया। 26 मई को शव को घर में ही रखा। शाम के समय मृतक के दो साला अन्य दो युवकों के साथ मिलकर एक बोरी में भरा और उसके बाद शव को एक लोहे के ट्रंक में डालकर स्कूटी के जरिए ब्रह्मपुत्र नद में फेंकने ले गये। नद में शव को फेंकते समय पेट्रोलिंग पुलिस की टीम की नजर युवकों पर पड़ी। पुलिस को देख चारों युवक शव को मौके पर ही छोड़कर भागने लगे। युवकों द्वारा शव को फेंके जाने के बाद फरार होने की घटना की जानकारी जालुकबाड़ी पुलिस ने तुरंत कामरूप (ग्रामीण) पुलिस को दी। जिसके बाद कामरुप पुलिस की टीम ने स्कूटी (एएस-02बीएक्स-5822) का पीछा करते हुए एक युवक को स्कूटी सहित गिरफ्तार कर लिया। स्कूटी के नंबर प्लेट को कागज से ढंका हुआ था। गिरफ्तार युवक मृतक का साला मोहन गिरी को लेकर पुलिस आज अभियान चलाकर उसके भाई सूरज गिरी और उसकी दीदी यानि मृतक की पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक मालीगांव के रेलवे कॉलोनी का रहने वाला बताया गया है। गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि मृतक आए दिन शराब पीकर घर पर झगड़ा करता था। जिसकी वजह से उसकी हत्या की गई है। गुवाहाटी पुलिस मोहन गिरी को अपने साथ लेकर हत्याकांड में शामिल फरार अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए जगह-जगह अभियान चला रही है। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल (जीएमसीएच) में भेज दिया है। वहीं पुलिस इस संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार /असरार/ अरविंद

अन्य खबरें

No stories found.