Update: 13 days police remand to two criminals who came from Bhagalpur with huge quantities of explosives and guns
क्राइम

अपडेट : भागलपुर से भारी मात्रा में विस्फोटक और बंदूक लेकर पहुंचे दो अपराधियों को 13 दिनों की पुलिस रिमांड

news

हावड़ा, 09 जनवरी (हि. स.)। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले संभावित हिंसा के मद्देनजर सतर्क राज्य पुलिस ने विस्फोटकों की सप्लाई के एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। राज्य पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की टीम ने हावड़ा जिले के गोलाबारी थाना क्षेत्र में बड़ी मात्रा में विस्फोटक और बंदूकों के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है। ये दोनो भागलपुर से भारी मात्रा में विस्फोटक और बंदूक लेकर यहां पहुंचे थे। एसटीएफ की ओर से शनिवार को बताया गया है कि दोनों को हावड़ा जिला न्यायालय में पेश किया गया था जहां से 13 दिनों के लिए पुलिस रिमांड पर लिया गया है। इनकी पहचान अब्दुल कादिर और गुलाम वारिस के तौर पर हुई है। अब्दुल कादिर हुगली जिले के चंदननगर का निवासी है और गुलाम वारिस उत्तर 24 परगना के जगदल का निवासी है। इन्हें शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से 15 किलो विस्फोटक तैयार करने के पाउडर, चार सात एमएम की पिस्टल, आठ मैगजीन और 101 राउंड गोलियां बरामद हुई हैं। बताया गया है कि दोनों हाल ही में भागलपुर गए थे जहां से इन हथियारों और विस्फोटकों को लेकर आए हैं। इन्हें रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। प्रााारंभिक जांच में इस बात के संकेत मिले हैं कि विधानसभा चुनाव के दौरान हिंसक गतिविधियों को अंजाम देने के इरादे से ही इन्हें एकत्रित किया गया था। बिहार से इतनी भारी मात्रा में विस्फोटक लेकर बंगाल कैसे चले आए इस बारे में भी जांच चल रही है। इनके कई अन्य साथी हैं जिनके बारे में पता लगाने के लिए पूछताछ जारी है। प्रमोटर की हत्या में रहे हैं शामिल दोनों तस्करों से पूछताछ में पता चला है कि पिछले महीने जिले के बेलूर में हुई एक प्रमोटर की हत्या में दोनों शामिल रहे हैं। इनके कई अन्य साथी भी उसमें मददगार थे। इनसे पूछताछ कर बाकी लोगों के बारे में पता लगाने की कोशिश की जा रही है। प्रारंभिक तौर पर यह जानकारी मिली है कि दोनों अंतरराज्यीय हथियार तस्करी गिरोह के गुर्गे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/सुगंधी-hindusthansamachar.in