two-miscreants-of-vicious-tortoise-gang-arrested-a-turtle-used-in-the-crime-recovered
two-miscreants-of-vicious-tortoise-gang-arrested-a-turtle-used-in-the-crime-recovered
क्राइम

शातिर कछुआ गैंग के दो बदमाश गिरफ्तार, वारदात में प्रयुक्त एक कछुआ बरामद

news

जयपुर,17 जून (हि.स.)। जयपुर ग्रामीण जिले के कालाडेरा थाना पुलिस ने चमत्कारिक कछुआ बताकर लोगों से ठगी करने वाले शातिर कछुआ गैंग का पर्दाफाश करते हुए गैंग के मुख्य सरगना सहित दो बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। जिनसे वारदात में प्रयुक्त एक कछुआ बरामद किया गया है। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। जयपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि चमत्कारी कछुआ बता कर लाखों रूपये की ठगी करने वाले शाति कछुआ गैंग के दो बदमाश विजय बावरिया उर्फ दीपू उर्फ उन्नू उर्फ पोल्यो (19)और विनय यादव उर्फ बाबू यादव (20) को गिरफ्तार किया गया है और दोनो ही आरोपित रेनवाल जिला जयपुर के रहने वाले है। आरोपितों ने पूछताछ में फुलेरा, जोबनेर,कालवाड चौमूं सहित अन्य थाना इलाकों के भोले-भाले लोगों को चमत्कारिक कछुआ बता कर ठगी करने की वारदाते कबूली है। आरोपियों से पूछताछ में सामने आया कि विजय बावरिया उर्फ दीपू उर्फ उन्नू उर्फ पोल्यो बावरिया कछुआ गैंग का सरगना है जो कछुआ कम पैसे में खरीद कर मोटी रकम में बेचकर व्यक्तियों को धन दुगना करने का लालच देता है। और जब पीडित के पास पैसे कम होते है तो आधा पैसा अपने पास से मिलाकर कछुआ खरीदता है फिर कछुआ खरीदने के लिए पार्टी बन कर आने वाला अन्य आरोपित विनय उर्फ बाबू यादव कछुआ का मोल भाव करता है और कछुआ नकली या मृत होना बताता है। जिस पर नुकसान होने पर आरोपी विजय बावरिया अपनी पार्टी से हुए नुकसान से अपने पैसे भुगतने की बात करता है। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है पूछताछ में अन्य कई वारदाते खुलने की आशंका जताई जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/ ईश्वर